बिहार में विपक्ष पर बरसे पीएम मोदी, कहा- राष्ट्रहित में कोई भी, कुछ भी फैसला ले, ये लोग विरोध में हैं

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 23-10-2020 / 6:08 PM
  • Update Date: 23-10-2020 / 6:09 PM

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को अपने प्रचार अभियान का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने सासाराम, गया और भागलपुर में चुनावी जनसभाओं को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी के साथ बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी मौजूद रहे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने बिहार चुनाव प्रचार की शुरुआत भोजपुरी से करते हुए दिवंगत केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और रघुवंश प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि दी। उन्‍होंने सबसे पहले बिहार के लोगो को बधाई और कोरोना से नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए सरकार ने काम की सराहाना की।

पीएम ने कहा, यदि बिहार में तेजी से काम नहीं हुआ होता तो न जाने कोरोना कितने लोगों की जान ले लेता, लेकिन आज बिहार कोरोना का मुकाबला करते हुए लोकतंत्र के महापर्व को मना रहा है। बिहार के लोग कभी कन्फ्यूजन में नहीं रहते। जितने सर्वे हो रहे है, सब में कहा जा रहा है कि बिहार में एक बार फिर एनडीए सरकार बनने जा रही है।

विपक्ष पर हमला करते हुए पीएम ने कहा, कुछ लोग भ्रम फैलाने के लिए एक-दो चेहरों को बड़ा दिखाने लगते है। भ्रम फैलाने वाले को बिहार के मतदाता सबक सिखाएंगे। जिनका इतिहास बिहार को बीमारू बनाने का रहा है, उन्हें फटकने भी नहीं देना है।

भोजपुरी में बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा, बिहार के जवान गलवान घाटी में शहीद होले, बिहार के लोग पुलवामा में शहीद होले सभी के श्रद्धांजलि। बिहार में लालटेन के जमाना गइल। बिहार के लोग वो दिन नहीं भूल सकते कि सूरज ढलने के साथ सबकुछ खत्म हो जाना।

पीएम ने कहा, वो दिन जब सरकार चलाने वाले कि निगरानी में रंगदारी होती थी। जिनके जमाने में अपहरण होता था। जिन लोगों ने सरकारी नौकरी के लिए लाखों रुपये की वसूली की, लेकिन आज फिर ललचाई नजरों से देख रहे है। तेजस्‍वी यादव का बिना नाम लिए कहा कि कुछ लोग फिर बिहार के युवाओं को ठगने की कोशिश कर रहे है।

उन्‍होंने कहा, बिहार में डबल इंजन की सरकार ने गरीबों के लिए बहुत कुछ किया। इसी कोरोना के दौरान सभी माताओं-बहनों के खातों में सीधे रकम भेजी गई, मुफ्त में सिलेंडर भरवाने की व्यवस्था की गई। रेहड़ी वालों के लिए व्यवस्था की गई। देश जहां संकट से सामना करना पड़ रहा, वहीं कुछ लोग विकास में रोड़ा बन रहे है। मंडी और एमएसपी तो बहाना है सिर्फ बिचौलिए को बचाना है। जब देश के लिए राफेल खरीद रहे थे, तब भी बिचैलिये की भाषा बोल रहे थे।

कांग्रेस पर हमला करते हुए पीएम ने कहा कि आज हालात यह हो गई है कि ये लोग भारत को कमजोर करने की कोशिश करने वालों के साथ साजिश करने से भी नहीं बच रहे। जिस 370 को हटाया, उसे ये लोग कह रहे है कि सत्ता में आये तो फिर से वापस लाएंगे। लेकिन फिर भी ये लोग बिहार में वोट मांग रहे है। ये लोग चाहे जिसकी मदद ले लें भारत अपने फैसलों से कभी पीछे नहीं हटेगा। इन लोगों को कभी आप लोगों से सरोकार नहीं रहा।

उन्‍होंने कहा, कैमूर में जिस दुर्गावती परियोजना की शुरुआत बाबू जगजीवन सिंह ने 70 के दशक में की थी, उसे एनडीए सरकार में पूरा किया गया। जिसे बिहार के लोगों ने सत्ता सौंपी थी, उन लोगों ने सिर्फ तिजोरी भरने का काम किया। जब नीतीश कुमार ने उन्हें सता से बेदखल किया। उसके बाद 10 साल तक दिल्ली में यूपीए की सरकार में रहते हुए बिहार पर अपना गुस्सा दिखाया।

मैं भी गुजरात का सीएम था और नीतीश कुमार बिहार के, नीतीश कुमार बार-बार कहते रहे कि बिहार के विकास में रोड़े नहीं अटकाए, लेकिन बिहार में काम नही होने दिया। पिछली बार नीतीश जी 18 महीनों तक उनके साथ गए, लेकिन इस दौरान क्या-क्या हुआ ये सभी जानते है। केंद्र में मेरी सरकार में तीन से चार साल का मौका मिला, बाकी समय तो यूपीए के साथ संघर्ष करने में बिता है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF