पीएम मोदी ने नेशनल एटॉमिक टाइम स्केल का किया उद्घाटन

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 04-01-2021 / 6:03 PM
  • Update Date: 04-01-2021 / 6:03 PM

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नेशनल मेट्रोलॉजी कॉन्क्लेव का उद्घाटन किया। इसके साथ ही पीएम ने नेशनल एटॉमिक टाइमस्‍केल और भारतीय निर्देशक द्रव्य राष्ट्र को समर्पित किया।

इस मौके पर केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान मंत्री, डॉ. हर्षवर्धन मौजूद रहे। इस दौरान पीएम मोदी ने कोरोना वैक्सीन बनाने कि लिए देश के वैज्ञानिकों की जमकर प्रशंसा की। साथ ही उन्होंने कहा कि जिस भी देश में विज्ञान को आगे बढ़ाया जाता है वही तरक्की करता है, इसलिए भारत में भी इसपर जोर दिया जा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा, भारत के वैज्ञानिकों ने एक नहीं दो मेड इन इंडिया कोविड वैक्सीन विकसित करने में सफलता पाई है। भारत में दुनिया का सबसे बड़ा कोविड वैक्सीन कार्यक्रम शुरू होने जा रहा है। इसके लिए देश को अपने वैज्ञानिकों के योगदान पर बहुत गर्व है। आज भारत ग्लोबल इनोवेशन रैंकिंग में दुनिया के टॉप 50 देशों में पहुंच गया है, आज बेसिक रिसर्च पर भी जोर दिया जा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा, देश 2022 में अपनी स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे कर रहा है और 2047 में हमारी आज़ादी के 100 वर्ष होंगे। इस दौरान हमें आत्मनिर्भर भारत के नए संकल्पों को ध्यान में रखते हुए नए मानकों को गढ़ने की दिशा में आगे बढ़ना ही है।

पीएम मोदी ने कहा, CSIR-NPL भारत का ‘टाइम कीपर’ है यानी भारत के समय की देखरेख और व्यवस्था आपके ही जिम्मे है। जब समय की जिम्मेदारी आपकी है तो समय का बदलाव भी आप से ही शुरू होगा। नए समय का, नए भविष्य का निर्माण भी आप से ही दिशा पाएगा।

पीएम मोदी ने कहा, आज जब देश ‘आत्मनिर्भर भारत’ का संकल्प लेकर आगे बढ़ रहा है तो हमें याद रखना है कि इसका लक्ष्य क्वांटिटी भी है लेकिन साथ-साथ क्वालिट भी उतनी ही महत्वपूर्ण है। हमें दुनिया को केवल भारतीय उत्पादों से भरना नहीं है, हमें भारतीय उत्पादों को खरीदने वाले हर ग्राहक का दिल भी जीतना है।

पीएम मोदी ने कहा, हमारा देश दशकों से क्वालिटी और मापने के लिए विदेशी स्टैंडर्ड पर निर्भर रहा है लेकिन इस दशक में भारत को अपने स्टैंडर्ड को नई ऊंचाई देनी होगी। इस दशक में भारत की गति, प्रगति, उत्थान, छवि, सामर्थ्य, हमारी क्षमता का निर्माण हमारे स्टैंडर्ड से ही तय होंगे।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF