पीएम मोदी ने अहमदाबाद मैट्रो रेल परियोजना का किया भूमिपूजन

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 18-01-2021 / 4:01 PM
  • Update Date: 18-01-2021 / 4:01 PM

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात को आज लगातार दूसरे दिन तोहफा दिया। सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पीएम मोदी ने अहमदाबाद मेट्रो प्रोजेक्ट के दूसरे चरण और सूरत मेट्रो प्रोजेक्ट का भूमि पूजन किया।

इस अवसर पर गुजरात के राज्यपाल, केंद्रीय गृह मंत्री, गुजरात के मुख्यमंत्री और केंद्रीय आवास एवं शहरी मामले मंत्री भी उपस्थित रहेंगे। यह मैट्रो परियोजनाएं इन शहरों को पर्यावरण-अनुकूल ‘रैपिड मास ट्रांजिट सिस्टम’ प्रदान करेंगी।

अहमदाबाद मैट्रो रेल परियोजना चरण-II दो गलियारों के साथ 28.25 किलोमीटर लंबी है। कॉरिडोर-1 22.8 किलोमीटर लंबा है और इसकी दूरी मोटेरा स्टेडियम से महात्मा मंदिर तक है। कॉरिडोर-2 5.4 किलोमीटर लंबा है और इसकी दूरी जीएनएलयू से जीआईएफटी सिटी तक है। चरण-II परियोजना की कुल पूर्ण लागत 5,384 करोड़ रुपये है।

सूरत मैट्रो रेल परियोजना 40.35 किलोमीटर लंबी है और इसमें दो गलियारे शामिल हैं। कॉरिडोर-1 21.61 किलोमीटर लंबा है और इसकी दूरी सरथाना से ड्रीम सिटी तक है। कॉरिडोर-2 18.74 किलोमीटर लंबा है और यह भीसन से सरोली तक है। परियोजना की कुल पूर्ण लागत 12,020 करोड़ रुपये है।

इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि, उत्तरायण की शुरुआत में आज अहमदाबाद और सूरत को बहुत ही अहम उपहार मिल रहा है। कल ही केवडिया के नए रेल मार्ग और नई ट्रेनों की शुरुआत हुई है। अहमदाबाद से भी आधुनिक जन शताब्दी एक्सप्रेस अब केवडिया तक जाएगी।

उन्होंने कहा कि, आज अहमदाबाद में 17 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के इंफ्रास्ट्रक्चर का काम शुरू हो रहा है। ये दिखाता है कि कोरोना के इस काल में भी नए इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण को लेकर देश के प्रयास लगातार बढ़ रहे हैं।

इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, 2014 से पहले के 10-12 वर्ष में सिर्फ 225 किमी मेट्रो लाइन ऑपरेशनल हुई थी। वहीं बीते 6 वर्षों में 450 किमी से ज्यादा मेट्रो नेटवर्क चालू हो चुका है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF