गुजरात को मिली सौगात, 3 अहम परियोजनाओं का पीएम मोदी ने किया उद्घाटन

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 24-10-2020 / 5:45 PM
  • Update Date: 24-10-2020 / 5:45 PM

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अहमदाबाद में बने एशिया के सबसे बड़े हार्ट हॉस्पिटल सहित गुजरात की 3 बड़ी परियोजनाओं का आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उद्घाटन किया। हॉस्पिटल का नाम यूएन मेहता इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियोलॉजी एंड रिसर्च सेंटर है। यह एशिया का सबसे बड़ा हार्ट हॉस्पिटल है। इसे 470 करोड़ की लागत से बनाया गया है। अस्पताल 8 मंजिला है और 8 लाख स्क्वॉयर फीट में बना है। अस्पताल में 1251 बेड की सुविधा है।

अस्पताल में 18 हॉर्ट-लंग ट्रांसप्लांट ऑपरेशन थियेटर और 750 स्कॉवयर फीट में ऑपरेशन थियेटर हैं। ऑपरेशन थियेटर में लेटेस्ट इक्विपमेंट्स हैं, जर्मनी से इंपोर्ट की गईं लाइट्स हैं, लाइट्स में कैमरा भी लगा है। अस्पताल में एयर प्यूफिकेशन की भी सुविधा है। बच्चों के लिए स्पेशल वॉर्ड, 1 दिन से 18 साल के बच्चे का इलाज, हॉर्ट सर्जरी और ट्रीटमेंट की सुविधा, 36 स्पेशलाइज्ड बेड की व्यवस्था, 150 एक्सपर्ट डॉक्टर और कुल 1900 लोगों का स्टाफ होगा।

हार्ट हॉस्पिटल के उद्घाटन के अलावा उन्होंने यहां उन श्रद्धालुओं को भी तोहफा दिया, जो गिरनार की पहाड़ियों पर चढ़कर माता का दर्शन करने जाते हैं। यहां जूनागढ़ में गिरनार पहाड़ी पर देश का सबसे बड़ा रोपवे बनाया गया है। दरअसल, गिरनार पहाड़ी के ऊपर मां अम्बे का मंदिर है। इस मंदिर तक जाने के लिए लोगों को 9999 सीढ़ियां चढ़नी पड़ती हैं। लेकिन, अब इस रोपवे के खुलने से भक्तों के लिए गिरनार पहाड़ियों पर बने मंदिर तक पहुंचना आसान हो जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस रोपवे का उद्घाटन करने के साथ ही माता के मंदिर तक पहुंचने का सफर 8 मिनट में किया जा सकेगा। गौरतलब है कि जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने इस प्रोजेक्ट की नींव रखी थी और अब यह बनकर तैयार है। पीएम मोदी ने आज इसका भी उद्घाटन किया है। इसके साथ ही आज पीएम मोदी ने गुजरात के किसानों के लिए ‘किसान सूर्योदय योजना’ की भी शुरूआत की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन परियोजनाओं का उद्घाटन करने को दौरान कहा, आज गुजरात को किसान सर्योदय योजना, यू.एन.मेहता इंस्टीट्यूट ऑफ़ कार्डियोलॉजी एंड रिसर्च के साथ संबद्ध पीडियाट्रिक हार्ट अस्पताल और गिरनार रोपवे मिल रहा है। ये तीनों एक प्रकार से गुजरात की शक्ति, भक्ति और स्वास्थ्य के प्रतीक हैं।

उन्होंने कहा, गुजरात हमेशा से असाधारण सामर्थ्य वाले लोगों की भूमि रही है। पूज्य बापू और सरदार पटेल से लेकर गुजरात के अनेक सपूतों ने देश को सामाजिक और आर्थिक नेतृत्व दिया है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF