पीएम मोदी ने कश्मीर पर दिया नया नारा- हमें नया कश्मीर बनाना है, हर कश्मीरी को गले लगाना है

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 19-09-2019 / 4:33 PM
  • Update Date: 19-09-2019 / 4:36 PM

नासिक। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महाराष्ट्र के नासिक पहुंचे हैं और वो वहां महाजनादेश यात्रा को संबोधित कर रहे हैं। महाराष्ट्र में इसी साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और पीएम मोदी का महाराष्ट्र जाना चुनाव के मद्देनजर देखा जा रहा है। रैली में पीएम मोदी ने कहा कि आज मैं एक विशेष धन्यता अनुभव कर रहा हूं और मैं इसे अपने जीवन का बहुमूल्य पल मानता हूं। आज छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज छत्रपति उदयन ने मेरे सिर पर एक छत्र रखा है। ये सम्मान भी है और छत्रपति शिवाजी महाराज के प्रति दायित्व का भी प्रतीक है।

मोदी ने राम मंदिर पर बयानबाजी करने वालों को आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई चल रही है। इस समय कई बयान बहादुर सामने आ रहे हैं। मैं उन सभी से कहना चाहता हूं कि वे केवल देश की न्याय प्रणाली पर श्रद्धा रखें। उद्धव ठाकरे ने 16 सितंबर को कहा था कि शिवसैनिकों को राम मंदिर का पहला पत्थर रखने के लिए तैयार रहने को कहा गया है। सरकार जो कुछ भी कर रही है, उससे राम मंदिर निर्माण को लेकर हमारी उम्मीद बढ़ गई हैं। अब इस मामले पर ज्यादा इंतजार करना सही नहीं है।

रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा, ‘कुछ बड़बोले लोग अयोध्या में राम मंदिर को लेकर अनाप-शनाप बयान देना शुरू कर देते हैं, देश के सभी लोगों के मन में सुप्रीम कोर्ट का सम्मान होना जरूरी है। मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। कोर्ट में सभी लोग अपनी बात रख रहे हैं। ऐसे में ये बयान बहादुर कहां से आ गए? मैं ऐसे बयान बहादुर लोगों को हाथ जोड़कर निवेदन करता हूं कि भगवान के लिए, भगवान राम के लिए भारत की न्याय प्रणाली में विश्वास रखें और आंख बंद करके कुछ भी अनाप-शनाप न बोलें।

अब नारा लगाना है- अब हमें कश्मीर बनाना है
मोदी ने कहा, अब नारा लगाना है- अब हमें कश्मीर बनाना है। कल तक कहते थे कि कश्मीर हमारा है, अब हिंदुस्तानी कहेगा कि हमें नया कश्मीर बनाना है। वहां फिर से स्वर्ग बनाना है। हर कश्मीर को अपना बनाना है। वहां 40 हजार लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया। 130 करोड़ लोगों का संकल्प है कि उन्हें फिर से मुख्यधारा में लाना है। मेरी देशवासियों से अपेक्षा है कि कश्मीरियों के दुखों पर मरहम लगाएं।

40 साल से उन्होंने जो भी यातनाएं झेलीं, देश का काम है कि उन्हें मुसीबत से मुक्ति दिलवाएं। सरहद पार से देश में अस्थिरता का माहौल बनाने की कोशिश हो रही है। कश्मीर के युवा साथी हिंसा के इस लंबे दौर से बाहर निकलने के लिए मन बना चुके हैं। वे विकास और रोजगार चाहते हैं। आपका यह सेवक, आपकी सरकार आपके साथ मिलकर विकास का नया युग शुरू करने के लिए प्रतिबद्ध है। पूरा देश जम्मू कश्मीर और लद्दाख गले लगा रहा है।

शरद पवार जी को पड़ोसी देश अच्छा लगता है
पीएम ने कहा, 40 साल तक 42,000 लोगों को जिस धरती पर मौत के घाट उतार दिया गया, जो धरती रक्त से रंग दी गई, 130 करोड़ देशवासियों का संकल्प है कि फिर एक बार उस कश्मीर को स्वर्ग बनाकर रहेंगे।’ उन्होंने विपक्ष की आलोचना करते हुए कहा, ‘यह दुर्भाग्य है कि शरद पवार जैसे वरिष्ठ नेता गलत बयान दे रहे हैं। उन्हें पड़ोसी देश अच्छा लगता है। वहां के शासक-प्रशासक उनको कल्याणकारी लगते हैं लेकिन पूरा महाराष्ट्र, पूरा भारत जानता है और पूरी दुनिया जानती है कि आतंक की फैक्ट्री कहां पर है।’

राजनीतिक अस्थिरता का शिकार महाराष्ट्र
इससे पहले अपने भाषण की शुरुआत में रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि महाराष्ट्र जिस तेजी से आगे बढ़ सकता था और जिस सामर्थ्य के साथ देश को आगे लेकर जा सकता था, अकेले मुंबई की चकाचौंध में दूर-दराज क्षेत्र, गांव, गरीब किसान राजनीतिक अस्थिरता के शिकार हो गए। सीएम देवेंद्र फडणवीस की तारीफ करते हुए पीएम ने कहा कि उन्होंने एक स्थिर और विकासशील सरकार राज्य को दी है। उन्होंने लोगों से दोबारा देवेंद्र फडणवीस को लाने की अपील की।

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने महाजनादेश यात्रा अहमदनगर से शुरू की थी। इससे पहले 7 सितंबर को मोदी मुंबई और औरंगाबाद गए थे। महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान चुनाव आयोग किसी भी वक्त कर सकता है। मुख्य चुनाव आयुक्त के नेतृत्व में टीम ने 17 सितंबर को राज्य का दौरा किया था।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF