कंगाल पाकिस्तान की अंतरराष्ट्रीय बेइज्जती, मलेशिया ने PIA का विमान जब्त कर यात्रियों को उतारा

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 15-01-2021 / 8:16 PM
  • Update Date: 15-01-2021 / 8:16 PM

कुआलालंपुर। कंगाल पाकिस्तान को उसके दोस्त मलेशिया ने बड़ा झटका दिया है। मलयेशिया के अधिकारियों ने शुक्रवार को कुआलालंपुर हवाई अड्डे पर पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) के बोइंग-777 विमान को जब्त कर लिया। इस विमान को स्थानीय अदालत के आदेश के बाद जब्त किया गया है। एयरलाइन ने शुक्रवार को कहा कि वह राजनयिक चैनलों के माध्यम से मामले को आगे बढ़ाएगा।

पाकिस्तान की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किस कदर बेइज्जती हो रही है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मलयेशिया ने विमान को जब्त करने से पहले सारे यात्रियों को विमान से बाहर निकाल दिया। इसके बाद यात्रियों के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की गई। इन विमानों को विभिन्न कंपनियों से समय-समय पर ड्राई लीज पर लिया गया है। जब्त किया गया विमान कराची से मलयेशिया पहुंचा था। जानकारी के अनुसार विमान जब्ती के कारण 18 सदस्यीय स्टाफ कुआलालंपुर में फंस गया है। प्रोटोकॉल के अनुसार अब उन्हें 14 दिन क्वारंटीन किया जाएगा।

दरअसल, पीआईए ने 2015 में एक वियतनामी कंपनी से बोइंग-777 सहित दो विमान किराए पर लिए थे। पीआईए ने एक बयान में कहा, मलयेशिया की एक स्थानीय अदालत ने पीआईए के एक विमान को जब्त कर लिया है। इसमें पीआईए और ब्रिटेन की अदालत में लंबित एक अन्य पक्ष के बीच कानूनी विवाद से संबंधित एकतरफा निर्णय लिया गया है।

हालांकि एयरलाइन ने यह नहीं बताया कि विमान को कहां जब्त किया गया है और न ही उसने अदालती मामले की जानकारी दी। एयरलाइन ने अपने बयान में कहा कि यह स्थिति ‘अस्वीकार्य’ है और उसने पाकिस्तान की सरकार से इस मामले को राजनयिक माध्यम से आगे बढ़ाने के लिए समर्थन मांगा है।

इससे पहले पाकिस्तान को सऊदी अरब ने भी तगड़ा झटका दिया था। कश्मीर को लेकर किए गए बर्ताव से नाराज सऊदी अरब ने पाकिस्तान को 2018 में दिए गए 3 बिलियन डॉलर की वित्तीय सहायता वापस करने को कहा था। इसके बाद पाकिस्तान ने अपने सदाबाहार दोस्त चीन के सामने हाथ फैलाया और चीन से कर्ज लेकर सऊदी अरब का कर्जा चुकता किया। पाकिस्तान इस समय बुरी तरह कर्ज में फंसा हुआ हुआ और खाद्य पदार्थों से लेकर अन्य सामानों के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF