पाक ने चली चाल, करतारपुर कॉरिडोर उद्घाटन के लिए मनमोहन को दिया न्योता, पीएम मोदी को नहीं

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 30-09-2019 / 5:54 PM
  • Update Date: 30-09-2019 / 5:54 PM

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर के बहाने नई चाल चली है। पाकिस्तान सरकार ने कहा है कि वह कॉरिडोर के उद्घाटन के लिए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को न्योता देगी। पाकिस्तान सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निमंत्रण नहीं देगी। भारतीय सिख तीर्थयात्रियों के लिए करतारपुर कॉरिडोर 9 नवंबर को खोला जाएगा। यह जानकारी के पाक के विदेश शाह महमूद कुरैशी ने दी।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक वीडियो संदेश में बताया कि पाकिस्तान ने करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में हिस्सा लेने के लिए मनमोहन सिंह को आमंत्रित करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा, करतारपुर गलियारा एक बेहद अहम परियोजना है।

इसमें प्रधानमंत्री इमरान खान निजी स्तर पर दिलचस्पी ले रहे हैं। हमने सलाह-मशविरे के बाद भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को गलियारे के उद्घाटन समारोह के लिए आमंत्रित करने का फैसला किया है। मैं विदेश मंत्री की हैसियत से मनमोहन सिंह साहब को इस समारोह में हिस्सा लेने की दावत दे रहा हूं।

कुरैशी ने कहा कि पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री को औपचारिक रूप से भी निमंत्रण भेजा जा रहा है। उन्होंने कहा कि धार्मिक रूप से भी इस न्योते का अर्थ है क्योंकि मनमोहन सिंह का संबंध सिख समुदाय से है। उन्होंने सिख समुदाय को भी निमंत्रित किया कि वह इस पवित्र अवसर पर होने वाले आयोजन में शामिल हो। पाकिस्तान ने पहले से कहा है कि बाबा गुरु नानक के 550वें प्रकाशोत्सव के अवसर पर नौ नवंबर को इस गलियारे को श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया जाएगा।

यह गलियारा भारतीय क्षेत्र से करतारपुर साहिब गुरुद्वारे को जोड़ेगा जो पाकिस्तान के नरवाल जिले में भारतीय पंजाब के गुरदासपुर स्थित सीमा से कुछ ही दूर स्थित है। इसी गुरुद्वारे में बाबा गुरु नानक ने अपने जीवन के अंतिम क्षण बिताए थे। इस वजह से इसे बेहद पवित्र माना जाता है।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF