हमारी योजनाएं ए.सी. कमरों में नहीं, गरीब और किसानों के बीच चौपालों में बैठकर बनती है: सीएम रमन सिंह

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 11-03-2018 / 3:45 PM
  • Update Date: 11-03-2018 / 3:45 PM

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने रविवार सवेरे आकाशवाणी के रायपुर केन्द्र से प्रसारित अपनी मासिक रेडियो वार्ता ‘रमन के गोठ’ में कहा कि हमारी योजनाएं मंत्रालय के एयर कंडीशन्ड (ए.सी.) कमरे में नहीं बनती, बल्कि गांव, गरीब और किसानों के बीच चौपालों में बैठकर बनती है। मुख्यमंत्री ने अपने रेडियो प्रसारण में कहा ग्राम सुराज से लोक सुराज अभियान तक और जनदर्शन से लेकर गांवों के भ्रमण तक मुझे आम जनता से जो जानकारी मिलती है, वही हमारी आगामी बजट का आधार बनती है।

उन्होंने अपने रेडियो कार्यक्रम में श्रोताओं को बताया कि प्रदेश सरकार ने इस वर्ष ‘मुख्यमंत्री पेंशन योजना’ शुरू करने का भी निर्णय लिया है। इस योजना में तीन लाख ऐसे लोगों को शामिल किया जाएगा, जो वर्ष 2011 के सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण में अति वंचित पाए गए हैं और पेंशन से भी वंचित है, इसके लिए भी बजट प्रावधान किया गया है। डॉ. सिंह ने कहा, छत्तीसगढ़ सरकार के बजट में लगातार वृद्धि हो रही है। वित्तीय वर्ष वर्ष 2003-04 में राज्य का बजट सिर्फ नौ हजार 270 करोड़ रूपए था, जो आगामी वर्ष 2018-19 के लिए बढ़कर 83 हजार 189 करोड़ रूपए हो गया है। हमारे पन्द्रहवें साल का यह बजट हमारे ही प्रथम वर्ष की तुलना में नौ गुना बड़ा है। बजट का यह आकार निरंतर विकास का सूचक है।

मुख्यमंत्री ने कहा, किसानों के लिए राज्य सरकार ने नये बजट में 13 हजार 480 करोड़ रूपए का प्रावधान किया है, जो पिछले साल से 29 प्रतिशत ज्यादा है। अनुसूचित जाति और जनजाति वर्गों के लिए नये बजट में बीस हजार 645 करोड़ रूपए रखे गए हैं। मुख्यमंत्री ने रेडियो वार्ता में कहा, सामान्यत: धान के बोनस की चर्चा होती है। निश्चित तौर पर हम अपने वायदे के अनुसार इस वर्ष भी धान का बोनस देंगे, लेकिन आपको यह जानकर अचरज होगा कि बोनस से ज्यादा राशि हम अपने किसानों को नि:शुल्क बिजली के लिए देते हैं और इस वर्ष भी देंगे।

इसलिए नये बजट में धान के बोनस के लिए दो हजार 107 करोड़ रूपए और किसानों को रियायती बिजली देने के लिए दो हजार 975 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। रेडियो वार्ता में मुख्यमंत्री ने लोक सुराज अभियान का उल्लेख करते हुए कहा, इस अभियान में जनता को सरकार के पास नहीं आना पड़ता, बल्कि सरकार स्वयं जनता तक पहुंचती है। मुख्यमंत्री ने ‘रमन के गोठ’ की 31वीं कड़ी में श्रोताओं को आज 11 मार्च से शुरू हुए और 31 मार्च तक चलने वाले प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान के तीसरे चरण के बारे में जानकारी दी।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF