मोदी सरकार को लगा बड़ा झटका – लोकसभा-विधानसभा चुनाव एक साथ कराने पर बोला EC – कोई चांस नहीं

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 26-08-2018 / 8:41 AM
  • Update Date: 26-08-2018 / 8:41 AM

नई दिल्ली। देश में लंबे समय से लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराए जाने को लेकर चल रही चर्चाओं पर मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने विराम लगा दिया है। औरंगबाद में एक संक्षिप्त पत्रकार वार्ता में जब उनसे पूछा गया कि क्या अब भी लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने की संभावना है, ओपी रावत ने कहा, ‘कोई चांस नहीं’। आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव अगले साल अप्रैल-मई में प्रस्तावित हैं। इस साल मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और मिजोरम में विधानसभा चुनाव होने हैं।

रावत ने कहा कि सांसदों को कानून बनाने के लिए कम से कम एक वर्ष लगेंगे। इस प्रक्रिया में समय लगता है। जैसे ही संविधान में संशोधन के लिए विधेयक तैयार होगा, हम (चुनाव आयोग) समझ जाएंगे कि चीजें अब आगे बढ़ रही हैं। रावत ने कहा कि चुनाव आयोग लोकसभा चुनाव की तैयारी मतदान की निर्धारित समयसीमा से 14 महीने पहले शुरू कर देता है।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF