नागमणि ने रालोसपा से दिया इस्तीफा, उपेंद्र कुशवाहा पर लगाया पैसे लेकर टिकट बेचने का आरोप

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 10-02-2019 / 3:41 PM
  • Update Date: 10-02-2019 / 3:41 PM

पटना। बिहार में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) में मचे घमासान के बीच पार्टी नेता नागमणि ने सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा को नौटंकीबाज करार दिया है। नागमणि ने कहा कि कुशवाहा नौटंकीबाज हैं और उनपर कोई लाठीचार्ज नहीं हुआ था। उन्होंने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि उपेंद्र कुशवाहा ने अपने चमचों से पूरी प्लानिंग करवाई थी जिसके बाद इस घटना को अंजाम दिया गया है।

अपने आवास पर आयोजित प्रेस वार्ता में पूर्व केंद्रीय मंत्री नागमणि ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा समाज की सिम्पैथी बटोरना चाहते हैं। इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि कुशवाहा का कोई वजूद नहीं है। नागमणि ने कुशवाहा को खुद से जूनियर बताते हुए कहा कि जूनियर को आगे बढ़ाने का मैंने काम किया और सीएम का दावेदार बनाया लेकिन मुझे चपरासी की तरह एक मिनट में हटा दिया गया।

नागमणि ने कहा कि कुशवाहा की पार्टी में तानाशाही चलती है। कुशवाहा ने आज तक किसी का काम नहीं किया है। अगर उन्होंने किसी भी जनता का काम किया हो तो बताए मैं 25 हजार रूपए का इनाम दूंगा। नागमणि ने इसके बाद कुशवाहा पर पैसे लेकर टिकट बेचने का भी आरोप लगाया साथ ही पार्टी की सदस्यता और सभी पदों से भी इस्तीफा दे दिया।

दरअसल, शुक्रवार को महागठबंधन के घटक दल आरएलएसपी ने पार्टी विरोधी गतिविधि के कारण पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष नागमणि को उनके पद से हटाने के साथ ही उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया था। पार्टी आलाकमान उपेंद्र कुशवाहा ने नागमणि को 3 दिन का समय दिया था। बताया जाता है कि शुक्रवार को नागमणि ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तारीफ की थी।

आरएलएसपी ने 2 फरवरी को शिक्षा सुधार की मांग को लेकर पटना के जेपी मूर्ति के समीप से राजभवन तक आक्रोश मार्च निकाला था। लेकिन पुलिस ने बीच में मार्च को रोकने की कोशिश की। आरएलएसपी कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध करने और आगे बढ़ने की कोशिश देख पुलिस ने लाठीचार्ज किया था। दर्जनों आरएलएसपी कार्यकर्ताओं के साथ उपेंद्र कुशवाहा के भी घायल होने की खबरें सामने आई थी। उन्हें पीएमसीएच में भर्ती करवाया गया था।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF