राजस्थान में लोकायुक्त कानून मजबूती से कार्य कर रहा है: कटारिया

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 07-09-2018 / 9:51 PM
  • Update Date: 07-09-2018 / 9:51 PM

जयपुर। राजस्थान के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि राजस्थान में लोकायुक्त कानून को और सशक्त बनाया जायेगा। कटारिया ने विधानसभा में शून्य काल के बाद कांग्रेस सदस्यों के शोर शराबे के बीच शुरू हुयी कार्यवाही में राजस्थान लोकायुक्त तथा उप लोकायुक्त (संशोधन) विधेयक 2018 पर भाजपा विधायक घनश्याम तिवाडी के सवालों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि राजस्थान में लोकायुक्त कानून मजबूती से कार्य कर रहा है और इसके तहत सभी प्रकरणों में मजबूती से कार्रवाई की गयी है।

उन्होंने कहा कि लोकायुक्त का कार्यकाल आठ वर्ष करने का प्रावधान देश के अन्य राज्यों के कानून के अनुरूप ही किया गया है और उच्चतम न्यायालय ने भी विधान सभा में पारित कानूनों को सही माना है। उन्होंने कहा कि जरूरत के अनुसार लोकायुक्त कानूनों में परिवर्तन किया जाता है जो एक सतत प्रक्रिया है। उन्होंने कहा कि लोकायुक्त ने प्रदेश में सशक्त कार्यवाही करते हुये 23978 दर्ज प्रकरणों में से 2375 प्रकरणों का निस्तारण किया है इसके अलावा खान घोटाले में चार जिलों के लंबित प्रकरणों को छोड़ कर सभी मामलों पर कार्यवाही की है।

निर्दलीय विधायक हनुमान बेनीवाल ने भी विधेयक पर विरोध करते हुये कहा कि वर्तमान लोकायुक्त कानून दंतविहीन है और इइसमें मुख्यमंत्री और मंत्रियों के खिलाफ जांच और कार्यवाही करने का प्रावधान रखा जाना चाहिये। इससे पूर्व तिवाडी ने अपनी आपत्ति जताते हुये कहा कि इस विधेयक को पारित करने से लोकायुक्त का सेवा काल आठ साल का प्रावधान रखना उचित नही है। उन्होंने कहा कि दंत विहीन यह संस्था सरकार पर बोझ है और इसे मध्यप्रदेश और कर्नाटक की तरह सशक्त बनाने की जरूरत है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF