पूजा-अर्चना के बाद बंद किए गए केदारनाथ-यमुनोत्री के कपाट

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 09-11-2018 / 11:08 PM
  • Update Date: 09-11-2018 / 11:08 PM

देहरादून। भगवान शिव के बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक उत्तराखंड के हिमालय पर्वत की कन्दरा में स्थित बाबा केदारनाथ धाम और पवित्र यमुना नदी के उद्गम स्थल पर स्थित मां यमुनोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए पूजा-अर्चना के बाद शुक्रवार को बंद कर दिये गए। शुक्रवार को यम द्वितीया (भैया दूज) पर वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच सुबह बाबा केदारनाथ को फूलों से सजी डोली में स्थापित किया गया।

केदारनाथ धाम के कपाट बंद होने के बाद अब शीतकाल के छह माह में भोले बाबा की पूजा-अर्चना ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में जबकि मां यमुना के दर्शन उनके मायके खुशीमठ (खरसाली) में किये जा सकेंगे। केदारनाथ में इस मौके पर बद्री-केदार मंदिर समिति ने केदारनाथ मंदिर को चारों ओर से 10 क्विंटल फूलों से सजाया था। कपाट बंद होने के अवसर पर कुल 1785 श्रद्धालु मौजूद थे।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF