भारत ने किया एंटी टैंक मिसाइल ध्रुवास्त्र का सफल परीक्षण

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 19-02-2021 / 7:21 PM
  • Update Date: 19-02-2021 / 7:21 PM

नई दिल्‍ली। मेक इन इंडिया मुहिम के तहत देश की सेना को लगातार मजबूत किया जा रहा है। सेना की ताकत में एक और नाम जुड़ गया। इंडियन एयर फोर्स ने आज पोकरण फायरिंग रेंज में सबसे कारगर ध्रुवास्त्र मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। हेलिकॉप्टर ध्रुव से दागी गई देश में ही विकसित इस मिसाइल ने अपने लक्ष्य पर एकदम सटीक प्रहार कर उसे नष्ट कर दिया।

तीन दिन से पोकरण में एयर फोर्स और डीआरडीओ की टीम इसके परीक्षण की तैयारियों में जुटी थी। नाग पीढ़ी की इस मिसाइल को हेलिकॉप्टर से दागे जाने की वजह से इसे हेलिना नाम दिया गया। डीआरडीओ के वैज्ञानिकों का दावा है कि यह मिसाइल सभी तरह के मौसम, चाहे दिन हो या रात अपने लक्ष्य पर एकदम सटीक हमला करने में सक्षम है।

ये डाइरेक्ट और टॉप मोड दोनों में है। इसे उड़ते हेलीकॉप्टर से या जमीन पर किसी विशेष वाहन से भी दागा जा सकता है। मिसाइल की ताकत दुश्मन के होश उड़ाने वाले हैं। यह पलभर में दुश्मनों के ठिकाने को नेस्तनाबूद कर सकता है। इसकी मारक क्षमता 4 से 8 किलोमीटर के बीच है।

भारत की सशस्त्र सेना अपने मिशन की जरूरतों को पूरा करने के लिए इस तरह के आधुनिक टैंक-रोधी मिसाइल की तलाश कर रही थी, जिसे इस प्रणाली के सेना में शामिल होने के बाद पूरा माना जा सकता है। इसे डीआरडीओ ने विकसित किया है। पिछले साल इसका सफल परीक्षण ओडिशा के बालासोर तट पर किया गया था।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF