चीन की आक्रामक गतिविधियों का भारत ने दिया माकूल जवाब: अमेरिका

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 09-07-2020 / 6:11 PM
  • Update Date: 09-07-2020 / 6:11 PM

वाशिंगटन। पूर्वी लद्दाख सीमा विवाद को लेकर भारत और चीन के हालिया तनाव पर चीन को अमेरिका ने सख्त शब्दों में हिदायत दी है। अमेरिका ने कहा है कि चीन ने गलवान में दोनों देशों के बीच हुई हिंसक झड़प में आक्रामकता दिखाई, जिसका भारत ने माकूल जवाब दिया है।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, मैंने इस मामले में भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर से कई बार बातचीत की। चीन ने आक्रामकता दिखाई, जिसका भारत ने जवाब दिया। उन्होंने कहा चीन अपने पड़ोसी देशों के साथ सीमा विवाद पैदा कर रहा है। विश्व बिरादरी को चीन को ऐसा करने से रोकना चाहिए।

उन्होंने आगे कहा, ऐसा कोई पड़ोसी मुल्क नहीं है, जो साफ शब्दों में कहता हो कि वह जानता है कि उसके देश की संप्रभुता कहां समाप्त होती है और चीनी कम्युनिस्ट पार्टी उस संप्रभुता का सम्मान करेगी। उन्होंने कहा चीन की इस हरकत पर दुनियाभर के सभी देशों को एक साथ आना होगा।

उन्होंने कहा राष्ट्रपति ट्रंप ने इस मामले को गंभीरता से लिया है। पोम्पिओ ने आगे कहा, जब मैं यहां हम कह रहा हूं, तो इसका मतलब सिर्फ अमेरिका से नहीं है, बल्कि जल्द ही यूरोपीय संघ के देशों से भी बातचीत होगी कि कैसे हमें चीनी सरकार की चुनौतियों का जवाब देना चाहिए।

वहीं दूसरी ओर अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के रक्षा मंत्रालयों की ओर से जारी एक संयुक्त बयान के मुताबिक हिंद महासागर क्षेत्र में चीन के बढ़ते खतरों को देखते हुए साझा रणनीति बनाने का संकेत दिया गया है। वहीं इस मुद्दे पर भारत और अमेरिका के विदेश मंत्रालयों की ओर से जारी बयान में भी चीन को लेकर परोक्ष तौर पर रणनीतिक संकेत दिया गया था।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF