हाथरस गैंगरेप केस: SIT को 10 दिन का और मिला समय, आज सौंपनी थी रिपोर्ट

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 07-10-2020 / 10:25 AM
  • Update Date: 07-10-2020 / 10:26 AM

नई दिल्ली। हाथरस गैंगरेप केस की जांच कर रही स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) को और 10 दिन की मोहलत दी गई है। एसआईटी को आज अपनी जांच रिपोर्ट सौंपनी थी, लेकिन सरकार ने उसे 10 दिन की और मोहलत दी है।

बता दें कि योगी सरकार के आदेश के बाद हाथरस मामले में जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया था, जिसे पहले 7 दिन में अपनी रिपोर्ट सौपनी थी। लेकिन सीएम योगी के आदेश पर अब एसआईटी 7 के बजाय 10 दिन में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

बता दें कि इस एसआईटी टीम में गृह सचिव भगवान स्वरूप, डीआईजी चंद्र प्रकाश और सेनानायक पीएसी आगरा पूनम सदस्य के रूप में हैं। इसके अलावा इस मामले की जांच CBI से भी करवाने के लिए प्रदेश सरकार ने सिफारिश कर दी है।

हालांकि पीड़िता के परिवार सीबीआई जांच करवाने से मना कर रहा है। इस मामले को लेकर विपक्ष द्वारा योगी सरकार पर लगातार किये जा रहे हमले के बाद से योगी सरकार ने ताबड़तोड़ कार्रवाई की है।

राज्य के अपर मुख्य सचिव, गृह विभाग अवनीश अवस्थी ने जानकारी देते हुए बताया कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर विशेष जांच दल (एसआईटी) को मुख्यमंत्री को अपनी रिपोर्ट देने के समय को 10 दिन बढ़ा दिया गया है। बता दे कि योगी सरकार ने इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में लाने के निर्देश दिया है। इस मामले में सभी चारों आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है।

गौरतलब है कि हाथरस जिले के चंदपा थाने के गांव में दलित लड़की के साथ 14 सितंबर को गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया। इसके साथ ही उस पर जानलेवा हमला किया गया। पीड़िता को लेकर परिवार वालों का आरोप है कि सुबह साढ़े नौ बजे के करीब चार दबंगों ने लडकी के साथ गैंग रेप और दरिंदगी की। घटना के 9 दिन बाद लड़की होश में आई तो इशारों से अपना दर्द बयान किया।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF