बरसात में फंगल इंफेक्शन से ऐसे रहें सुरक्षित, फॉलो करें ये 10 बातें

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 10-07-2018 / 10:36 PM
  • Update Date: 10-07-2018 / 10:36 PM

बारिश के मौसम में सबसे ज्‍यादा अपनी सेहत का ध्‍यान रखना बहुत जरूरी है। क्‍योंकि बारिश अपने साथ कई बीमारियों को लेकर आती है। इनमें से एक है फंगल इंफेक्शन। यही वो मौसम है जब फंगल इन्फेक्शन होने का खतरा सबसे अधिक होता है। इस मौसम में त्वचा से जुड़ी समस्याएं भी खूब होती हैं। त्वचा पर लाल चकत्ते, मुंहासे, उलझे-चिपचिपे बाल जैसी दिक्कतों के साथ एक दिक्कत और आती है और वह है फंगल संक्रमण।

मानसून की शुरुआत के बाद फंगल संक्रमण के मरीजों की संख्या बढ़ जाती है। फंगल पैदा करने वाले जीवाणु आमतौर पर मानसून के दौरान कई गुना तेजी से फैलते हैं। यह सामान्य तौर पर शरीर के नजरअंदाज किए गए अंगों जैसे की पैर की उंगलियों के पोरों पर, उनके बीच के स्थानों पर या उन जगहों पर जहां जीवाणु या कवक का संक्रमण बहुत अधिक तेजी से होता है, वहां फैलते हैं।

अक्सर मॉनसून के दौरान लोग हल्की बूंदा-बांदी में भीगने के बाद अपनी त्वचा को अनदेखा कर देते हैं। लेकिन यही छोटी सी असावधानी कई बार फंगस से संक्रमित होने का कारण बन जाती है। फंगल संक्रमण से बचने के लिए यह बहुत आवश्यक है कि आप इस बात का ध्यान अवश्य रखें कि त्वचा ज्यादा देर तक गीली नहीं रहे।

यह समस्या जुलाई और अगस्त के महीने के दौरान काफी बढ़ जाती है। स्कैल्प में होने वाले फंगल संक्रमण के लक्षण सामान्य फंगल संक्रमण से अलग होते हैं। सामान्यतौर पर यह स्कैल्प पर छोट-छोटे फोड़ों, दानों या चिपचिपी परत के रूप में दिखाई देता है। आपको ऐसा कोई लक्षण नजर आए तो फौरन ही विशेषज्ञ की मदद लें अन्यथा समय पर इलाज नहीं करने पर यह आपके बाल झड़ने का बड़ा कारण बन सकता है।

इसके साथ की शरीर के बाकी हिस्सों में खुजली होना भी इस इंफेक्शन का मुख्य लक्षण है। इससे बचने के लिए जरूरी है कि मॉनसून के इस मौसम में खास ख्याल रखा जाए और नीचे दी गई 10 बातों को फॉलो किया जाए।

1. इस मौसम में कॉटन के कपड़े पहनें ताकि स्किन खुलकर सांस ले सके। सिंथेटिक फाइबर्स से बने शरीर से चिपकने वाले फैब्रिक अवॉइड करें।
2. खमीर या यीस्ट से बने प्रोडक्ट्स को ना खाएं। खासकर आर्टिफिशियल शुगर के बनी ड्रिंक्स और फूड को भी ना खाएं।
3. दिन में कम से कम दो बार नहाएं और इनर गारमेंट्स को हर दिन बदलें. साथ ही अपने प्राइवेट एरिया को भी साफ और ड्राय रखें।
4. इस मौसम में ही नहीं सभी मौसम में अपने साबुन, तौलिया, रुमाल और इनर गारमेंट्स किसी से शेयर ना करें।
5. नए कपड़ों को खरीदने के बाद एक बार पानी में निकालकर पहनें।
6. जितना हो सके शरीर को सूखा रखें। घर से बाहर निकले तो अपने साथ कपड़ों का एक सेट बैग में रखें, ताकि गीले होने पर चेंज कर सकें।
7. जींस, टी-शर्ट, सूट और इनर गारमेंट्स लूज़ ही पहनें. इस मौसम टाइट कपड़ें अवॉइड करें।
8. बारिश में गीले होने के बाद घर में हल्के गुनगुने पानी से नहाएं और बॉडी को सुखाकर टेलकम पाउडर लगाएं।
9. आर्टिफिशियल जूलरी, बाहर का खाना, जंक फूड और बाहर के पूल्स को अवॉइड करें।
10. हर दिन 8 से 10 गिलास पानी पिएं और फ्रेश खाना खाएं।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF