पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली नहीं रहे, एम्स में हुआ निधन

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 24-08-2019 / 12:57 PM
  • Update Date: 24-08-2019 / 12:58 PM

नई दिल्ली। मोदी सरकार-1 में वित्त मंत्री रहे और भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का एम्स में निधन हो गया है। वो काफी दिनों से बीमार थे और उनका इलाज एम्स में चल रहा था। उन्होंने दिल्ली के एम्स में दोपहर 12.07 बजे अंतिम सांस ली है। वह 66 वर्ष के थे। जेटली 9 अगस्त से ही एम्स में भर्ती थे। जेटली 9 अगस्त से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती थे।

उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने के कारण एम्स में भर्ती किया गया था। जेटली के निधन की खबर सुनने के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने अपने हैदराबाद दौरे को खत्म कर दिया है। वह हैदराबाद से दिल्ली के लिए निकल चुके हैं।

जेटली के फेफड़ों में पानी जमा हो रहा था, जिसकी वजह से उन्हें सांस लेने में दिक्कत आ रही था। यही वजह है कि डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर रखा था। उन्हें सॉफ्ट टिशू सरकोमा था, जो एक प्रकार का कैंसर होता है। बता दें कि जेटली पहले से डायबिटीज के मरीज थे। उनका किडनी ट्रांसप्लांट हो चुका था। सॉफ्ट टिशू कैंसर की भी बीमारी का पता चलने के बाद वह इलाज के लिए अमेरिका भी गए थे। उन्होंने मोटापे से छुटकारा पाने के लिए बैरिएट्रिक सर्जरी भी करा रखी थी।

रिपोर्ट के मुताबिक गुरुवार को उनका डायलिसिस किया गया था। शुक्रवार को उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेने बीजेपी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उमा भारती एम्स पहुंची थीं। इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सहित कई वरिष्ठ नेता जेटली को देखने एम्स जा चुके हैं। अरुण जेटली मोदी के मंत्रिमंडल का अहम चेहरा थे, इस दौरान जेटली ने वित्त एवं रक्षा दोनों मंत्रालयों का कार्यभार संभाला था।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF