पंचतत्व में विलीन हुई पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 21-07-2019 / 7:04 PM
  • Update Date: 21-07-2019 / 7:05 PM

नई दिल्ली। पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का निगमबोध घाट पर राजकीय सम्मान के साथ रविवार दोपहर अंतिम संस्कार किया गया। इससे पहले उनकी पार्थिव देह कांग्रेस मुख्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखी गई। यहां सोनिया और प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। सोनिया ने कहा कि वह मेरी बड़ी बहन और दोस्त थीं। हमेशा मुझे उनका समर्थन मिला।

शनिवार दोपहर राजधानी के फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हॉस्पिटल में कॉर्डियक अरेस्ट से दीक्षित का निधन हो गया था। वे 15 साल दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं। लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने 10 जनवरी को उन्हें दिल्ली की कमान सौंपी थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार देर शाम पूर्वी निजामुद्दीन स्थित दीक्षित के आवास पर पहुंचे और उन्हें श्रद्धांजलि दी। गृह मंत्री अमित शाह भी भारी बारिश के बीच शीला दीक्षित के अंतिम दर्शनों के लिए पहुंचे।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और डेप्युटी सीएम मनीष सिसोदिया भी उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए पहुंचे थे। इससे पहले रविवार को कांग्रेस मुख्यालय पर शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि देते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि वह मेरे लिए बड़ी बहन सरीखी थीं। सोनिया ने शीला के साथ राजनीतिक संबंधों से अलग अपने आत्मीय रिश्तों का जिक्र किया। सोनिया ने कहा कि शीला दीक्षित उनके लिए सिर्फ कांग्रेस नेता भर नहीं बल्कि दोस्त और बहन जैसी थीं।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF