महिला डॉक्टर की गलत इंजेक्शन से मौत, परिजनों का हंगामा

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 26-10-2017 / 5:26 PM
  • Update Date: 26-10-2017 / 5:26 PM

कानपुर। कल्याणपुर इलाके के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान महिला डॉक्टर की मौत हो गई। मौत से गुस्साए परिजनों ने अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आरोप के आधार पर इलाज कर रहे डॉक्टर को हिरासत में लेते हुए कार्रवाई शुरू कर दी है।

मिली जानकारी के अनुसार मूलरूप से कन्नौज के ठठिया निवासी महिला डॉक्टर ने सैफई मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी की और दिल्ली में जाकर पीजी की तैयारी कर रही थी। कुछ दिनों में डॉक्टर फिशर बीमारी से परेशान थी। बीती रात इलाज के लिए वह कानपुर आपने छोटे भाई विकास राठौर के साथ पहुंची। यहां पर वह कल्याणपुर के शारदानगर स्थित निजी हॉस्पिटल में भर्ती हुई।

परिजनों के मुताबिक यहां पर महिला डॉक्टर का इलाज शुरू हुआ। आरोप है कि देर रात करीब ढाई बजे डॉ एएस सेंगर ने कहा आपरेशन करना पड़ेगा। महिला डॉक्टर को आपरेशन थियेटर में ले गए और बेहोश करने वाले डॉक्टर को बुलाए बगैर खुद ही बेहोशी के लिए एनस्थीसिया लगा दिया। डोज अधिक होने की वजह से महिला डॉक्टर की हालत बिगड़ने लगी।

इस दौरान अस्पताल में करीब 50 मिनट तक तड़पने के बाद सुबह करीब सात बजे उनकी मौत हो गई। मौत के बाद आक्रोशित परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया।हंगामे की सूचना पर इंस्पेक्टर देवेन्द्र विक्रम सिंह फोर्स के साथ पहुंचे और प्रथम दृष्टया आरोप के आधार पर डॉ सेंगर को हिरासत में ले लिया।

बड़े भाई डॉ विमल राठौर ने हत्या और इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए कल्याणपुर थाने में तहरीर देते हुए प्रशासन से मांग उठाई है कि पोस्टमार्टम डॉक्टरों के पैनल से कराया जाए।घटना की जानकारी पर पहुंचे एसपी पश्चिम डॉ गौरव ग्रोवर ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है। जिसके आधार पर हिरासत में लिये गये डॉक्टर पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF