मध्य प्रदेश: पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर कांग्रेस के बंद का मिलजुला असर

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 20-02-2021 / 5:11 PM
  • Update Date: 20-02-2021 / 5:12 PM

भोपाल। देशभर में बढ़ती पेट्रोल और डीजल की कीमतों के बीच कांग्रेस ने मध्य प्रदेश में शनिवार को बंद आह्वान किया। जिसका मिलाजुला असर दिखाई दिया। राज्य के कुछ हिस्सों में कांग्रेस के बंद का असर रहा तो कई जगहें दुकानें खुली रहीं।

हालांकि कांग्रेस इसे बंद का व्यापक असर बता रही है तो बीजेपी इसे फ्लॉप करार दे रही है। हालांकि राजधानी भोपाल में कांग्रेसियों और पुलिस के बीच झड़प देखने को मिली। बंद के दौरान पुलिस ने पूर्व मंत्री पीसी शर्मा सहित कई कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को अपनी हिरासत में लिया।

पेट्रोल और डीजल के बढ़ते मूल्यों को लेकर कांग्रेस के बंद की अलग-अलग तस्वीरें भोपाल में देखने को मिली। भोपाल में पूर्व मंत्री पी. सी. शर्मा सहित कांग्रेस के तमाम कार्यकर्ता सड़कों पर नजर आए। इस दौरान पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने भाजपा सरकार द्वारा लगाए जा रहे टैक्स पर हमला बोला।

हालांकि कांग्रेस शासित राज्यों में लग रहे टैक्स पर उन्होंने केंद्र सरकार के पाले में ही गेंद डाल दी। वहीं रोशन पुरा स्थित पूर्व पार्षद ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हवाई ज्ञापन सौंपा। गैस भरे काले गुब्बारों के साथ एक ज्ञापन बांधा गया और इसे हवा में छोड़ कर अपना विरोध दर्ज कराया गया।

इंदौर में कांग्रेस नेताओं ने फूल देकर दुकानें बंद कराईं। इस दौरान कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने साईकिल चलाकर विरोध दर्ज कराया। जीतू पटवारी ने मीडिया से कहा कि 60 साल में इतनी महंगाई नहीं हुई, जितनी 7 साल में बढ़ गई है।

वहीं ग्वालियर में कांग्रेस विधायक सतीश सिकरवार स्कूटर पर सवार होकर बंद कराने निकले। सैकड़ों कांग्रेसियों की टोलियां भी उनके साथ रहीं। शहर के अलग-अलग बाजारों में घूमकर कांग्रेसियों ने दुकानों को बंद कराया।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि महंगाई बढ़ती जा रही है। इससे गरीब के बजट पर असर पड़ा है। क्या वित्त मंत्री ने एक पैसा टैक्स भी अमीरों पर बढ़ाया? उन्होंने कहा कि पूरा पैसा गरीब के जेब से जा रहा है। हमारी मांग सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी कम करने की है। डीजल की सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी 10 गुना और पेट्रोल की 5 गुना बढ़ा दी गई है। आप इसे 2014 की रेट पर लाईये डीजल और पेट्रोल अपने आप 60-70 रुपये पर आ जाएगा।

उधर, कांग्रेस के बंद को राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने फ्लॉप करार दिया है। विश्वास सारंग का कहना है की कांग्रेस उन राज्यों में बंद क्यों नहीं कर रही, जहां कांग्रेस की सरकारें हैं। वहीं प्रदेश में बड़े हुए वेट को लेकर चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने कहा कि तेल की कीमतें अंतरराष्ट्रीय बाजार से तय होती हैं। हमारी सरकार अगर वेट ले रही है, तो विकास भी कर रही है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF