मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना: विवाह, निकाह और मैरिज का 27 फरवरी को संगम

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 26-02-2021 / 8:33 PM
  • Update Date: 26-02-2021 / 8:33 PM

छत्तीसगढ़ के 22 जिलों में एक साथ 3 हजार 300 जोड़ियों का विवाह

मुख्यमंत्री, मंत्री, सांसद और विधायकगण राजधानी रायपुर से ऑनलाईन देंगे आशीर्वाद

रायपुर। छत्तीसगढ़ के 22 जिलों में 27 फरवरी को 11 बजे मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत एक साथ 3 हजार 300 जोड़ियां परिणय सूत्र में बंधेंगी। कोरोना संक्रमण के खतरे को ध्यान में रखते हुए महिला एंव बाल विकास विभाग 22 जिलों में अलग-अलग स्थानों पर सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल सहित मंत्रीमंडल के सदस्य, सांसद, विधायकगण और कई जनप्रतिनिधि रायपुर के बूढ़ा तालाब के समीप सरदार बलवीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम परिसर में आयोजित मुख्यमंत्री कन्या विवाह आयोजन में शामिल होंगे और सभी जिलों के नव दम्पत्तियों को ऑनलाइन आर्शीवाद देंगे। सामूहिक विवाह के आयोजन में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जारी दिशा-निर्देशों का पालन करने के निर्देश दिए गए हैं।

इस अवसर पर हिन्दू, मुस्लिम और क्रिश्चन अलग-अलग धर्मों का संगम होगा और वर-वधु के धार्मिक रस्मों-रिवाज के अनुसार उनका विवाह कराया जाएगा। राजधानी रायपुर में 3 इसाई, 1 मुस्लिम, 236 साहित 240 जोड़ों का विवाह उनके अपने रीति-रिवाजों के साथ संपन्न होगा। गरीब परिवार की बेटियों की शादी की चिंता दूर करने और शादियों में होने वाले फिजूलखर्ची को सामूहिक विवाह के माध्यम से कम करने के उद्देश्य मुख्यमंत्री कन्या विवाह के तहत विवाह का पूरा खर्च राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। बेटियों के विवाह में किसी प्रकार की कमी न हो इसे देखते हुए राज्य सरकार ने इस योजना के तहत राशि 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार कर दी है। अब विभाग के द्वारा प्रति जोड़ा 25 हजार रूपए तक व्यय किया जाता है। इसमें से 20 हजार रूपए तक की सामग्री वर-वधू को प्रदान की जाती है तथा शेष 5 हजार रूपए प्रति जोड़े वैवाहिक कार्यक्रमों के विभिन्न आयोजनों में खर्च किये जाते हैं।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF