सीबीआई का दावा- मुजफ्फरपुर शेल्‍टर होम में किसी लड़की की हत्‍या नहीं हुई

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 08-01-2020 / 6:10 PM
  • Update Date: 08-01-2020 / 6:10 PM

पटना। बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्‍टर होम कांड में सीबीआई ने बड़ा खुलासा किया है। सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में दिए अपने बयान में कहा कि मुजफ्फरपुर शेल्‍टर होम में किसी लड़की की हत्‍या नहीं हुई। यही नहीं जांच एजेंसी ने कहा किया है कि शेल्‍टर होम से मिले नरकंकाल नाबालिगों के नहीं थे। उसने यह भी कहा कि शेल्‍टर होम से जुड़े सभी 17 मामलों की जांच पूरी हो गई है।

अटार्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि मुजफ्फरपुर शेल्‍टर होम में किसी भी लड़की की हत्‍या नहीं हुई। उन्‍होंने कहा कि शेल्‍टर होम से जो नर कंकाल मिले हैं, वे नाबालिगों के नहीं हैं। दो कंकाल मिले थे, लेकिन बाद में फरेंसिक जांच में पाया गया कि एक कंकाल आदमी और दूसरा औरत का है। सीबीआई ने उच्चतम न्यायालय से कहा कि मुजफ्फरपुर आश्रय गृह यौन उत्पीड़न के 17 मामलों में जांच पूरी हो गई है और जिलाधिकारियों सहित संलिप्त सरकारी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए रिपोर्ट दायर कर दी गई है।

सीबीआई ने यह भी कहा कि बिहार सरकार से आग्रह किया गया है कि विभागीय कार्रवाई करे और सीबीआई के प्रारूप में जांच परिणाम मुहैया कर संबंधित एनजीओ का पंजीकरण रद्द करने और उन्हें काली सूची में डालने के लिए कहा गया है। एजेंसी ने कहा, ‘बालिका गृह मुजफ्फरपुर के एक मामले में सुनवाई पूरी हो गई है और फैसला 14 जनवरी तक सुनाया जाएगा।’ बता दें कि बिहार के मुजफ्फरपुर में एक एनजीओ की ओर से संचालित आश्रय गृह में कई लड़कियों का यौन उत्पीड़न किया गया था और टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (टीआईएसएस) की रिपोर्ट के बाद मामला प्रकाश में आया था।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF