बस पॉलिटिक्स: अपनी ही पार्टी पर बरसी कांग्रेस विधायक

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 20-05-2020 / 4:39 PM
  • Update Date: 20-05-2020 / 4:39 PM

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में बस पॉलिटिक्स चल रही है। प्रियंका गांधी ने यह मांग की थी कि कांग्रेस पार्टी अपने खर्चे से प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाना चाहती है। इसके लिए पार्टी एक हजार बसों का इंतजाम करेगी। जिस पर योगी सरकार ने कहा था कि बसों की लिस्ट और ड्राइवरों का नाम उपलब्ध कराया जाए।

अब खबर यह है कि कांग्रेस ने बसों की जो लिस्ट उपलब्ध कराई थी उसमें ऑटो और मोटरसायकिल के नंबर भी शामिल थे। जिसके बाद रायबरेली से कांग्रेस की विधायक आदिती सिंह अपनी पार्टी पर ही बरस पड़ी हैं।

आदिती सिंह ने कहा है कि अगर बसे हैं तो राजस्थान, पंजाब और महाराष्ट्र में लगानी चाहिए। आदिती सिंह ने ट्वीट कर कहा कि आपदा के वक्त ऐसी निम्न सियासत की क्या जरूरत, एक हजार बसों की सूची भेजी, उसमें भी आधी से ज्यादा बसों का फर्जीवाड़ा, 297 कबाड़ बसें, 98 आटो रिक्शा व एबुंलेंस जैसी गाड़ियां, 68 वाहन बिना कागजात के, ये कैसा क्रूर मजाक है, अगर बसें थीं तो राजस्थान,पंजाब, महाराष्ट्र में क्यूं नहीं लगाई।

मजदूरों पर चल रही बस पॉलिटिक्स में कांग्रेस और बीजेपी के बीच अब FIR की जंग शुरू हो गई है। मंगलवार को लखनऊ के हजरतगंज थाने में कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा के सचिव संदीप सिंह और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के खिलाफ FIR दर्ज हुई। यह एफआईआर 1000 बसों की गलत जानकारी देने पर कराई गई थी।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF