भजन गायक नरेन्द्र चंचल का 80 साल की उम्र में निधन, पीएम मोदी ने जताया दुख

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 22-01-2021 / 6:54 PM
  • Update Date: 22-01-2021 / 6:54 PM

नई दिल्ली। भजन गायक नरेंद्र चंचल का शुक्रवार को दिल्ली के अपोलो अस्पताल में निधन हो गया है। 80 साल की उम्र में उन्होंने अंतिम सांस ली। वो काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। पिछले 3 दिनों से वो दिल्ली के अपोलो अस्पताल में भर्ती थे, जहां उनका इलाज चल रहा था। पीएम मोदी ने भी उनके निधन पर दुख जताया है।

नरेन्द्र चंचल ने कई प्रसिद्ध भजन गाए हैं, जिनमें ‘चलो बुलावा आया है’ और ‘ओ जंगल के राजा मेरी मैया को लेके आजा’ जैसे भजन शामिल हैं। इसके अलावा उन्होंने हिंदी फिल्मों में भी गाने गाए हैं। नरेन्द्र चंचल का पिछले काफी समय से स्वास्थ्य खराब चल रहा था। करीब 80 साल के नरेंद्र चंचल पंजाब ही नहीं बल्कि उत्तर भारत में अपनी भजन गायकी के कारण एक बेहतर मुकाम रखते थे। चंचल को जगराते में बुलाने को लेकर पंजाब तथा उत्तर भारत में एक अलग ही क्रेज था।

उनके निधन की खबर सामने आते ही इंडस्ट्री में शोक की लहर है। सभी उन्हें श्रद्धांजली दे रहे हैं। उनके निधन पर देश के प्रधानमंत्री ने भी शोक व्यक्त किया है।

नरेन्द्र चंचल का जन्म 1940 में नमक मंडी अमृतसर में हुआ था। उनका नमक मंडी की गली कुत्तेयां वाली में उनका पैतृक घर है। उन्होंने 1973 में पहली बार हिंदी फिल्म में गाना ‘बॉबी’ फिल्म में ‘बेशक मंदिर मस्जिद तोड़ों’ के बाद ‘बेनाम’ फिल्म का ‘मैं बेनाम हो गया’ गाना सुपर-डुपर हिट था। इस गाने से चंचल ने बॉलीवुड में अपना एक अलग नाम बना लिया। हाल ही में चंचल ने कोरोना को लेकर एक गाना गाया था जो काफी वायरल हुआ था। 1994 से लगातार चंचल माता वैष्णो देवी दरबार में नव वर्ष पर आयोजित होने वाले वार्षीक जागरण में हाजिरी लगाते थे।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF