अयोध्या विवाद: सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, कहा- मध्यस्थता से ही सुलझेगा विवाद

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 08-03-2019 / 5:14 PM
  • Update Date: 08-03-2019 / 5:14 PM

नई दिल्ली। अयोध्या भूमि विवाद में मध्यस्थता को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने अहम फैसला सुनाया है। कोर्ट ने कहा है कि इस मामले का हल मध्यस्थता के जरिए निकाला जाएगा। इसके लिए रिटायर्ड जस्टिस इब्राहिम कलीफुल्लाह की अगुवाई में तीन सदस्यीय मध्यस्थता कमेटी गठित की गई है। इससें श्री श्री रविशंकर और श्रीराम पंचू शामिल हैं। मध्यस्थता प्रक्रिया फैजाबाद में आयोजित की जाएगी।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर, हिंदू महासभा के कोर्ट के प्रतिनिधि रविशंकर जैन ने पूरी जानकारी दी। सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या भूमि विवाद में महत्वपूर्ण फैसला सुनाया है। जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय पीठ ने कहा कि इस मामले का हल मध्यस्थता के जरिए हो।

इसके लिए मध्यस्थता कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी की अध्यक्षता रिटायर्ड जस्टिस इब्राहिम कलीफुल्लाह करेंगे। इसके अलावा इन कमेटी में श्रीश्री रविशंकर और श्रीराम पंचू शामिल हैं। मध्यस्थता प्रक्रिया फैजाबाद में होगी।

सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि यह पूरी मध्यस्थता की प्रक्रिया अयोध्या में होगी। इसकी कोई मीडिया रिपोर्टिंग नहीं होगी। मध्यस्थता की प्रक्रिया एक हफ्ते में शुरू होना है। मध्यस्थता शुरू होने के चार हफ्ते बाद एक प्रगति रिपोर्ट मांगी है। आठ हफ्ते में मध्यस्थता की प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी। इसके बाद कमेटी को अपनी फाइनल रिपोर्ट सौंपनी होगी।

कोर्ट ने फैजाबाद में ही मध्यस्थता को लेकर बातचीत करने के निर्देश दिए हैं। जब तक बातचीत का सिलसिला चलेगा, पूरी बातचीत गोपनीय रखी जाएगी। सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा है कि पैनल में शामिल लोग या संबंधित पक्ष कोई जानकारी नहीं देंगे। इसको लेकर मीडिया रिपोर्टिंग पर भी पाबंदी लगा दी गई है।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF