राष्ट्रीय अधिवेशन में बोले अमित शाह- संवनैधानिक तरीके से होगा राम मंदिर का निर्माण

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 11-01-2019 / 7:51 PM
  • Update Date: 11-01-2019 / 7:51 PM

नई दिल्ली। रामलीला मैदान में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का राष्ट्रीय शुरू हो गया है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने अपने शुरुआती संबोधन में बीजेपी कार्यकर्ताओं से लोकसभा चुनाव 2019 के लिए युद्ध की तरह जुट जाने को कहा। अमित शाह ने कहा कि आने वाला चुनाव युद्ध की तरह है, और इसमें जीत के लिए कार्यकर्ताओं को जी जान से लग जाना होगा।

अमित शाह ने कहा, 2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है, दो विचारधाराएं आमने सामने खड़ी है, 2019 का युद्ध सदियों तक असर छोड़ने वाला है और इसीलिए मैं मानता हूं कि इसे जीतना बहुत महत्वपूर्ण है। हमने घोषणा पत्र में राम मंदिर के लिए वादा किया। भाजपा चाहती है कि उसकी जगह पर भव्य राम मंदिर का निर्माण हो। सुप्रीम कोर्ट में केस चल रहा है। हम चाहते हैं कि जल्द से जल्द सुनवाई पूरी हो। हमने कहा है कि संवनैधानिक तरीके से राम मंदिर का निर्माण होगा। लेकिन कांग्रेस इसमें रोड़े अटका रही है। भाजपा का कार्यकर्ता आश्वस्त रहे कि हम मंदिर बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

अमित शाह ने कहा कि मैं मोदी के साथ 1987 से काम कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि भाजपा के पास दो करोड़ से बढ़कर नौ करोड़ कार्यकर्ता हो गए हैं। आज भाजपा का नेतृत्व दुनिया में सबसे अच्छा है। जो हमें आने वाले चुनावों में जीत दिलाएगा। ये नेतृत्व ही दुनिया में भारत को गौरव के साथ खड़ा करने का काम करेगा। नए भारत की कल्पना केवल प्रधानमंत्री मोदी की नहीं है, यह देश के लाखों युवाओं की है। मोदी जी के अलावा भारत में और कोई मजबूत सरकार नहीं दे सकता।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि महागठबंधन ढकोसला है। उन्होंने कहा कि कल तक जो लोग एक-दूसरे का मुंह तक नहीं देखते थे, वे आज चुनाव के नाम पर एकसाथ आ गए हैं। अमित शाह ने इस दौरान सरकार के कई कामों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार ने गरीबों और युवाओं के लिए काम किया है, जिसके लिए उनका सम्मान किया जाना चाहिए। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि आज जीएटसी काउंसिल में हर बार किसी न किसी वस्तु के दाम कम किए जाते हैं। उन्होंने जीएसटी को मददगार बताया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी का फैसला करके फर्जी कंपनियों पर भी कार्रवाई की गई।

इसके साथ ही उन्होंने सवर्ण आरक्षण का भी जिक्र किया और कहा कि 10 फीसदी आरक्षण देने का ऐतिहासिक काम मोदी सरकार में ही हुआ। जो युवाओं को नौकरी और शिक्षा में अहम जगह दिलाएगा। कांग्रेस में इसका विरोध करने की हिम्मत नहीं थी। कांग्रेस ने भी अपने घोषणा पत्र में ये वादा किया था, लेकिन वह केवल देखने-दिखाने के लिए ही था। उन्होंने कहा कि उरी में जवानों के साथ हुई बर्बरता के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक का फैसला किया। इससे दुनिया का भारत को देखने का अंदाज बदल गया।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF