कोलकाता नेशनल लाइब्रेरी पहुंचे अमित शाह, साइकिल रैली को दिखाई हरी झंडी

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 19-02-2021 / 4:50 PM
  • Update Date: 19-02-2021 / 4:50 PM

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दूसरे दिन शुक्रवार को कोलकाता के नेशनल लाइब्रेरी पहुंचे। जहां उन्होंने बंगाल की महान हस्तियों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद अमित शाह ने नेशनल लाइब्रेरी में ही बिप्लब बंगला प्रदर्शनी का उद्घाटन किया और साइकिल यात्रा को हरी झंडी दिखाई।

ये साइकिल यात्राएं कोलकाता से झारग्राम होते हुए पुरुलिया, कोलकाता से हुगली होते हुए पूर्ब बर्धमान, कोलकाता से नॉर्थ 24 परगना और हुगली होते हुए मुर्शिदाबाद तक जाएंगी।

इस दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस के संघर्ष को कभी भुलाया नहीं जा सकता। देश के युवाओं को नेताजी से प्रेरणा लेनी चाहिए। सुभाष बाबू ने देश की आजादी के लिए अदम्य साहस दिखाया। गृहमंत्री ने कहा कि देश के युवाओं को नेताजी की जीवनी जरूर पढ़नी चाहिए।

राष्ट्रीय पुस्तकालय में बंगाल की महान हस्तियों को श्रद्धांजलि देने के बाद शाह ने कहा कि सुभाष बाबू ने अंग्रेजों की नौकरी ठुकराई थी। सुभाष बाबू के संस्कार हमेशा प्रेरणादायी हैं। उनकी संघर्षगाथा को भुलाया नहीं जा सकता है। उन्होंने देश के लिए अदम्य साहस दिखाया था।

उन्होंने कहा, मैं देश के युवाओं से कहना चाहता हूं कि आपको सुभाष चंद्र बोस के जीवन के बारे में पढ़ना चाहिए। उनकी जीवन यात्रा आपको बहुत कुछ सिखाएगी। शाह ने कहा कि सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती को चिह्नित करने के लिए प्रधानमंत्री की ओर से पहले ही एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया है। पूरे साल भर 125 में जयंती पर कार्यक्रम चलेंगे। उन्होंने युवाओं से इस कार्यक्रम से जुड़ने की अपील की।

गृहमंत्री ने कहा कि देश की जनता सुभाष बाबू को इतने साल के बाद भी उतने ही प्यार और सम्मान से याद करती है जितना वे जीवित थे और संघर्ष करते थे तब करती थी। बहुत प्रयास हुआ कि उनको भुला दिया जाए लेकिन उनका व्यक्तित्व, काम और बलिदान कोई कितना भी प्रयास करे भारतवासियों के मन में वैसे ही रहेगा।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF