ये हैं असली गौभक्त…गौमुत्र पीते हैं, गोबर खाते हैं

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 27-09-2017 / 2:48 PM
  • Update Date: 27-09-2017 / 2:51 PM

अहमदाबाद। गायों को लेकर छिड़ी बहस के बीच यहां रहने वाले विजय प्रसन्ना पूरे देश के लिए एक नजीर हैं। विजय ने अपना परिवार छोड़ अब पूरा जीवन गौसेवा को समर्पित कर दिया है। गायों के साथ ही नहाना, खाना, टीवी देखना और उनके साथ सोना विजय प्रसन्ना की दिनचर्या का हिस्सा है। विजय प्रसन्ना का दावा है कि हेल्थ के लिहाज से गौसेवा बहुत ही फायदेमंद है। वह 22 दिन तक केवल गौमूत्र पीकर जिंदा रहे हैं।

दो बच्चों के पिता विजय प्रसन्ना ने गायों के लिए ही पांच साल पहले अपने परिवार को छोड़ दिया और घर से चार मील दूर एक आश्रम में रहने लगे। इस साल उन्होंने अपनी दो गायों की शाही अंदाज में शादी की और इस पर करीब 18 लाख रुपए खर्च किए। सबसे खास बात यह है कि इस नेक काम में उनका पूरा परिवार उनके साथ खड़ा है।

जब प्रसन्ना पहली बार अहमदाबाद आए थे तो जुआ खेलने लगे, लेकिन जब उन्होंने गायों के साथ समय बिताना शुरू किया तो उनका पूरा जीवन ही बदल गया। उन्होंने कहा कि गायों के प्रति मेरा प्यार बयां नहीं किया जा सकता। गायों से ज्यादा मुझे किसी से प्यार नहीं है। जब मैं उनके साथ होता हूं तो पूरी दुनिया को भूल जाता हूं और मुझे किसी बात की चिंता नहीं रहती है। हमने एक विशेष रिश्ता बना कर लिया है और मेरा परिवार मेरे लिए बहुत खुश है। मैं उन्हें समझता हूं और वे मुझे समझते हैं। मैं उनके साथ सुख-दु:ख साझा करता हूं।

विजय के पास दो बैल, छह कुत्ते और दो हजार अन्य जानवर हैं। इसमें मोर, खरगोश और सांप शामिल हैं। विजय के मुताबिक इन सभी में राधा, पूनम और सरस्वती, इन तीन गायों से उन्हें विशेष लगाव है।

पिछले साल मार्च में विजय ने पूनम की शादी अर्जुन (बैल) से की थी। इसमें करीब पांच हजार मेहमान शामिल हुए थे और करीब 18 लाख रुपए का खर्च आया था। हिंदू रीति-रिवाज के साथ हुई इस शादी में पूनम और अर्जुन को बहुत से गिफ्ट मिले थे। इस साल विजय ने सरस्वती, पूनम और अर्जुन के बछड़ों का जन्मदिन मनाया था।

इसमें 300 मेहमान शामिल हुए और पांच लाख रुपए का खर्च आया था। विजय कहते हैं- मैं आज जो कुछ भी हूं, वह सब गायों की वजह से है। उनकी वजह से मेरी आर्थिक स्थिति, स्वास्थ्य और पर्सनॉलिटी सब बदल गई है। गायें हमारी मां की तरह हैं। मैं सभी लोगों से अपील करता हूं कि वे गाय पालें और अपने जीवन में बदलाव को देखें।

विजय प्रसन्ना के शहर में 22 जिम हैं और सुबह वह काम पर जाने से पहले गौमूत्र पीते हैं और नाश्ते में गाय का गोबर लेते हैं, साथ ही दो महीने की सरस्वती को अपने साथ काम पर ले जाते हैं। उनका दावा है कि गौमूत्र पोषक चीजों से भरा हुआ है और शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है। उन्होंने कहा- एक कप रोजाना गौमूत्र के सेवन से आप स्वस्थ रहेंगे और हरेक को इसका सेवन करना चाहिए।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF