शोपियां के बाद अजीत डोभाल ने किया अनंतनाग का दौरा, लोगों से की बातचीत

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 10-08-2019 / 5:56 PM
  • Update Date: 10-08-2019 / 5:56 PM

नई दिल्ली। अनुच्छेद 370 हटाने के ऐलान के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल जम्मू-कश्मीर के दौरे पर हैं। उन्होंने शोपियां के बाद आज अनंतनाग का दौरा किया। वह इलाके का माहौल भांपने के लिए सड़क पर उतरे। वहां के लोगों ने उनसे काफी अच्छे से मुलाकात कर गर्मजोशी से उनका स्वागत किया। इसी दौरान उनकी मुलाकात बकरीद के लिए भेड़ें बेचने आए चरवाहों से हो गई। डोभाल ने चरवाहे से कुछ देर तक बात की।

जम्मू-कश्मीर में शांति कायम रखने के लिए केंद्र सरकार के सारे तंत्र सुपर ऐक्टिव हैं। शांति सुनिश्चित रखने की दिशा में केंद्र की सक्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि एनएसए अजीत डोभाल वहां लगातार आतंकवाद प्रभावित इलाकों में जाकर आम लोगों से मिल रहे हैं और उन्हें बेहतर भविष्य का आश्वासन दे रहे हैं। इसी क्रम में उन्होंने आज अनंतनाग का दौरा किया। अनंतनाग, जम्मू और कश्मीर के बाद जम्मू-कश्मीर का तीसरा सबसे बड़ा शहर है। वहां, डोभाल ने भेंड़ बेचने आए व्यक्ति से भेंड़ों के दाम पूछे और पूछा कि वह कहां से आए हैं।

दरअसल, जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले भारतीय संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद जम्मू-कश्मीर के कुछ इलाकों में उग्र प्रदर्शन की आशंका के मद्देनजर केंद्र सरकार बिल्कुल सधे कदम से आगे बढ़ रही है। 4 अगस्त की रात घोषित निषेधाज्ञा में थोड़ी-थोड़ी ढील दी जा रही है। हालांकि, आतंकवाद प्रभावित जिलों में अब भी फूंक-फूंक कर कदम उठाए जा रहे हैं। शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा के बीच लोगों ने जुमे की नवाज पढ़ी। वहीं, उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, सज्जाद लोन जैसे बड़े नेताओं को अब भी नजरबंद रखा गया है।

सरकार कर्फ्यू पूरी तरह हटाने और नेताओं की नजरबंदी खत्म करने से पहले घाटी में सामान्य हालात की गारंटी कर लेना चाहती है। इसी क्रम में जम्मू-कश्मीर की जेलों में बंद 70 आतंकवादियों को आगरा जेल शिफ्ट किया जा चुका है और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नए-नए इलाकों का दौरा कर जनता का मूड भांप रहे हैं और केंद्र सरकार में उनका भरोसा बढ़ाने की जीत-तोड़ कोशिश कर रहे हैं।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF