यात्री सुविधाओं की बेहतरी, सामान ढुलाई सुविधाओं को प्राथमिकता: सुरेश प्रभु

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 13-03-2018 / 3:08 PM
  • Update Date: 13-03-2018 / 3:08 PM

नई दिल्ली। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने नागर विमानन मंत्री का अतिरिक्त पदभार संभालने के बाद कहा कि यात्री सुविधाओं की बेहतरी, सामान ढुलाई सुविधाओं को बढ़ावा तथा उड़ान योजना के तहत 56 नए हवाई अड्डों के परिचालन की शुरुआत उनकी प्राथमिकता होगी। उन्होंने कहा कि विश्व के सबसे बड़े विमानन बाजार चीन के मुकाबले भारत में यात्रियों की संख्या में बेहतर वृद्धि हो रही है।

प्रभु ने कहा, हम यात्री सेवाओं तथा संपर्क को बेहतर करने पर ध्यान देना चाह रहे हैं। उड़ान योजना के तहत 56 नए हवाई अड्डों की मंजूरी दी गई है। हम इन्हें जल्द से जल्द परिचालित करना चाहते हैं जिससे संपर्क बेहतर होगा तथा विमानन बाजार के लिए भारी मांग सृजित होगी। हम इसीलिए इस पर काम करना चाह रहे हैं।

प्राथमिकता के क्षेत्रों के बारे में उन्होंने कहा कि देश में विमानन माल ढुलाई सेवाओं तथा निर्यात में भारी संभावनाएं हैं, खासकर खराब होने वाले कृषि उत्पादों की ढुलाई के संबंध में। उन्होंने कहा कि प्रति वर्ष 30 से 40 प्रतिशत फल एवं सब्जियां बाजार पहुंचने से पहले नष्ट हो जाते हैं। इसी कारण हम उन्हें प्रसंस्कृत कर उनका निर्यात करना चाहते हैं और इसके लिए हवाई संपर्क आवश्यक है।

प्रभु ने कहा कि विमानन माल ढुलाई बेहतर होने से कृषि निर्यात बढ़ाने का वाणिज्य मंत्रालय का लक्ष्य प्राप्त करने में भी मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि यात्रियों की संख्या 16-20 प्रतिशत की दर से बढ़ रही है जो कि अप्रत्याशित है। उन्होंने कहा कि विश्व के सबसे बड़े विमानन बाजार चीन में यात्रियों की वृद्धि दर भारत की तुलना में कम है।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF