94 साल की उम्र में हुए ग्रेजुएट!

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 24-02-2016 / 7:00 PM
  • Update Date: 24-02-2016 / 7:00 PM

वाशिंगटन। पढ़ने की कोई उम्र सीमा नहीं होती है! इसे 94 साल के एक अमेरिकी नागरिक ने साबित कर दिखाया है। करीब 75 साल के प्रयास के बाद वह अब जाकर स्नातक बनेंगे।

द्वितीय विश्वयुद्ध में शामिल होने से पहले मोरगन टाउन के एंथनी ब्रूटो ने 1939 में वेस्ट वर्जीनिया यूनिवर्सिटी (हश्व) में दाखिला लिया था।

यूनिवर्सिटी ने बताया कि जब एंथनी 1942 में स्नातक होने के करीब थे, उन्हें कॉलेज छोड़ना पड़ा. वह सेना में शामिल हो गए और द्वितीय विश्वयुद्ध की समाप्ति तक करीब साढ़े तीन साल तक सेवा दी।

1942 में जब वह स्नातक पूरा करने के करीब थे तो उन्हें सेना की वायु कोर ईकाई में सेवा के लिए बुला लिया गया। इसमें वह द्वितीय विश्व युद्ध की समाप्ति तक रहे। 1946 में ब्रुटो ने दोबारा डब्ल्यूवीयू में नामांकन कराया।

लेकिन वह फिर स्नातक की पढ़ाई पूरी करने में विफल रहे। इस बार उनकी पढ़ाई के आड़े उनकी पत्नी की बीमारी आ गई। आखिरकार 75 साल के प्रयास के बाद अब जाकर उन्हें सफलता मिली है।

ब्रुटो डब्ल्यूवीयू से इतिहास में स्नातक की डिग्री पाने वाले सबसे उम्रदराज व्यक्ति होंगे। वह 17 मई को डिप्लोमा पाने वाले उन 4500 छात्रों में शामिल होंगे जिन्हें रीजेंट्स बैचलर ऑफ आर्ट्स की डिग्री प्रदान की जाएगी।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF