गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 14-02-2018 / 6:18 PM
  • Update Date: 14-02-2018 / 6:18 PM

नई दिल्ली। बुधवार के कारोबारी दिन भारतीय शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए हैं। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 145 अंक की गिरावट के साथ 34155 के स्तर पर बंद हुआ है वहीं निफ्टी 38 अंकों की कमजोरी के साथ 10500 के स्तर पर बंद हुआ है।

आज के सत्र में मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में खरीदारी देखने को मिल रही है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर दोनो ही इंडेक्स करीब 1 फीसद की बढ़त के साथ कारोबार कर रहे हैं। सेक्टोरियल इंडेक्स की बात करें तो पीएसयू बैंकिंग इेडक्स में सबसे ज्यादा 0.88 फीसद की गिरावट देखने को मिल रही है। वहीं सबसे ज्यादा तेजी रियल्टी और मेटल इंडेक्स मे है। दोनो ही इंडेक्स 1 फीसद से ज्यादा की बढ़त के साथ कारोबार कर रहे हैं।

दिग्गज शेयरों की बात करें तो निफ्टी में शुमार 50 में से 23 शेयर बढ़त के साथ और 27 शेयर गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। सबसे ज्यादा तेजी भारती एयरटेल, इंडिया बुल्स फाइनेंस, वेदांता लिमिटेड, बजाज फाइनेंस और एचसीएलटेक के शेयरों में देखने को मिल रही है। वहीं इंफ्राटेल, सनफार्मा, पावर ग्रिड, SBI और ICICI बैंक टॉप लूजर हैं।

मंगलवार को अमेरिकी बाजार में मजबूत क्लोजिंग के बाद आज सुबह एशियाई बाजारों की शुरुआत मिली हुई। भारतीय बाजार खुलने से पहले करीब 8 बजे सिंगापुर निफ्टी 77 अंक की बढ़त के साथ 10543 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं जापान का इंडेक्स निक्केई 0.77 फीसद की गिरावट के साथ 21081 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। शंघाई 0.18 फीसद की गिरावट के साथ 3179 के स्तर पर और हैंगसैंग 0.73 फीसद की बढ़त के साथ 30058 पर कारोबार कर रहा है। तायवान का इंडेक्स कोस्पी 0.70 फीसद की बढ़त के साथ 2412 के स्तर पर है।

मंगलवार के सत्र में अमेरिकी शेयर बाजार लगातार तीसरे दिन बढ़त के साथ बंद हुए। डाओ जोन्स 39 अंक चढ़कर 24640 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं एसएंडपी 500 में भी 0.26 फीसद की बढ़त देखने को मिली। एसएंडपी की क्लोजिंग 2662 के स्तर पर हुई। आईटी कंपनियों वाला इंडेक्स नेस्डेक 31 अंक चढ़कर 7013 के स्तर पर बंद हुआ।

यूरोपिय बाजारों की बात करें तो गिरावट देखने को मिली। जर्मनी का इंडेक्स डैक्स 12196 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं फुटसी 9 अंक की मामूली गिरावट के साथ 7168 के स्तर पर और कैक बिना बदलाव 5109 के स्तर पर बंद हुआ। इस गिरावट की वजह कंपनियों के अनुमान से कमजोरी तिमाही नतीजे रहे।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF