आठ घंटे से कम नहीं ज्यादा सोना भी है खतरनाक

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 03-12-2017 / 1:23 PM
  • Update Date: 03-12-2017 / 1:23 PM

ज्यादा और गलत ढंग से सोना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। इससे हृदय आघात और डायबिटीज जैसे रोग होने की आशंका बढ़ जाती है। वहीं, गलत ढंग से सोने से जल्दी झुर्रियां पड़ सकती हैं अक्सर लोगों को ऐसा लगता है कि जितना ज्यादा सोएंगे, उतना ही तरोताजा रहेंगे, लेकिन एक नया शोध यह बताता है कि इसके नुकसान ज्यादा हैं।

त्वचा रोग विशेषज्ञ लॉरेना ओबर्ग ने बताया कि गलत तरीके से सोने पर जल्दी झुर्रियां पड़ती हैं, जिससे चेहरे पर बुढ़ापा भी जल्दी नजर आने लगता है। एकदम सीधे पीठ के बल सोना चाहिए और हाथ भी सीधे रखना चाहिए। पेट या सीने पर हाथ रखकर नहीं सोना चाहिए। विशेषज्ञों ने यह भी बताया कि सोने से पहले चेहरे को अच्छी तरह से साफ करना चाहिए।

इससे त्वचा अच्छी रहती है। चेहरा धोने के बाद ज्यादा मॉश्च्युराइजिंग क्रीम नहीं लगाना चाहिए, क्योंकि त्वचा खुद ही प्राकृतिक रूप से अपना ख्याल रखती है। लॉरेना ओबर्ग ने कहा कि सोने के लिए रेशम का बिस्तर सबसे अच्छा रहता है। इससे घर्षण कम होता हैं, जिससे झुर्रियों की संभावना भी नहीं रहती है। उन्होंने यह भी बताया कि ज्यादा नींद लेने से मधुमेह और हृदयाघात का जोखिम रहता है। सेहतमंद रहने के लिए सात से आठ घंटे की नींद की पर्याप्त होती है।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF