बाबरी मस्जिद विवाद : कोर्ट में दिया सिब्बल का बयान गलत…

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 07-12-2017 / 12:11 PM
  • Update Date: 07-12-2017 / 12:11 PM

नई दिल्ली। राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान सुन्नी सेंट्रल वक्फ की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल की दलीलों पर अब खुद वक्फ बोर्ड ने सवाल उठा दिए हैं। बोर्ड के हाजी महबूब ने कहा, हां कपिल सिब्बल हमारे वकील हैं लेकिन वो एक राजनीतिक दल से भी संबंध रखते हैं। मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में दिया गया उनका बयान गलत है। हम इस समस्या का समाधान जल्द से जल्द चाहते हैं।

दरअसल मंगलावर को सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि पर सुनवाई के दौरान कपिल सिब्बल ने मामले को जुलाई, 2019 तक टालने की मांग की थी। हालांकि इस दौरान उन्होंने साफ तौर पर चुनाव का उल्लेख नहीं किया। मगर माना जा रहा है कि उन्होंने लोकसभा चुनावों की ओर ही संकेत किया था।

भाजपा के वरिष्ठ प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी सिब्बल पर वक्फ बोर्ड की फटकार के बाद उनपर तंज कसा है। मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा हाजी महबूब ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट में दिया गया सिब्बल का बयान उनकी निजी राय थी। वो एक राजनेता के रूप में बात कर रहे थे। दूसरी तरफ सूत्रों के हवाले से मिली खबर की मानें तो सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने सिब्बल से कभी नहीं कहा कि वो मामले की सुनवाई जुलाई, 2019 तक टाले जाने की मांग करें।

वहीं कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में दिए सिब्बल के बयान का बचाव किया है। पार्टी का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट में सिब्बल का बयान उनका निजी नहीं थी। मामले में कांग्रेस के आधिकारिक प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, कांग्रेस लगातार कहती रही है कि सरकार और राजनेताओं को राम जन्मभूमि मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के परामर्श से पहले निर्णय लेना चाहिए।

सुरजेवाला ने आगे कहा कि बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि मुद्दे पर दिया सुप्रीम कोर्ट का आदेश सभी के लिए स्वीकार्य होना चाहिए। जानकारी के लिए बता दें कि मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में कपिल सिब्बल की दलीलों के बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर ताना मारा था। उन्होंने कहा था, सुप्रीम कोर्ट में राम जन्मभूमि पर सुनवाई के दौरान कपिल सिब्बल के दिए बयान से कांग्रेस का पक्ष साफ है।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF