फर्रुखाबाद में 49 बच्चों की मौत पर भड़के गौतम गंभीर

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 04-09-2017 / 12:50 PM
  • Update Date: 04-09-2017 / 12:52 PM

फर्रुखाबाद। उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले के एक सरकारी अस्पताल में एक महीने में 49 बच्चों की मौत हो गई है। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि इस साल 20 जुलाई से 21 अगस्त के बीच राम मनोहर लोहिया राजकीय संयुक्त चिकित्सालय में 49 शिशुओं की मौत हुई, जिनमें 19 पैदा होते ही मर गए।

आॅक्सीजन की कमी के कारण मारे गए बच्चे
फर्रूखाबाद के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती ये बच्चे आॅक्सीजन और दवाइयों की कमी के कारण मारे गए हैं।

जांच टीम का गठन
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जिलाधिकारी ने अस्पताल से पिछले एक महीने में मारे गए बच्चों पर रिपोर्ट मांगी है और मामले की जांच के लिए एक टीम का गठन किया गया है।

अभिभावकों ने बताई आॅक्सीजन की कमी
रिपोर्ट के अनुसार जिलाधिकारी रविंद्र कुमार और सिटी मजिस्ट्रेट जेके जैन ने मामले की प्राथमिक जांच की। माना जा रहा है कि कुछ अभिभावकों ने बच्चों की मौत की शिकायत करते हुए आॅक्सीजन की कमी की वजह बताई है।

योगी सरकार पर फूटा गुस्सा
इस खबर के मीडिया में आते ही लोगों का गुस्सा उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर फूट पड़ा है। इसी कड़ी में क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी अपना दर्द जाहिर किया है।

आखिर योगी कर क्या रहे हैं
गौतम गंभीर के इस ट्वीट पर लोगों ने भी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए योगी आदित्यनाथ की सरकार और सिस्टम पर निशाना साधा है। लोग लिख रहे हैं कि समझ में नहीं आ रहा है कि आखिर प्रदेश के सीएम योगी कर क्या रहे हैं।

गोरखपुर में हुई थी कई बच्चों की मौत
इससे पहले गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल काॅलेज में करीब एक महीने में 140 से ज्यादा बच्चों की मौत के बाद योगी आदित्यनाथ प्रशासन पर सवाल खड़े हुए थे। इन बच्चों की मौत के लिए इंसेफलाइटिस और आॅक्सीजन की कमी वजह बताई गई थी। गोरखपुर में भी बच्चों की मौत के बाद अस्पताल के सीएमएस को हटा दिया गया था और अलग-अलग धाराओं में विभिन्न डाॅक्टरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF