यहां लड़कियों को मिलेगी खेलों में भाग लेने की मंजूरी

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 12-07-2017 / 1:17 PM
  • Update Date: 12-07-2017 / 1:17 PM
दुबई। सउदी अरब ने महिलाओं के हक में फैसला लेते हुए कहा है कि वह निजी स्कूलों के बाद अब सरकारी स्कूलों में भी लड़कियों को खेलों में भाग लेने की मंजूरी देगा। देशभर में महिलाएं और अधिक अधिकारों तथा खेलों में भाग लेने की वर्षों से मांग कर रही हैं जिसके बाद अब यह कदम उठाया गया है।
शिक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को कहा था कि वह, धीरे-धीरे और इस्लामिक शरिया कानूनों के अनुसार शारीरिक शिक्षा की कक्षाएं शुरू करेगा। सउदी अरब के एक कार्यकर्ता ने ट्विटर पर पूछा कि क्या लड़कियों को खेलों में भाग लेने से पहले पुरूष संरक्षक जैसे कि पिता से अनुमति लेनी होगी। यह भी स्पष्ट नहीं है कि क्या ये कक्षाएं पाठ्येत्तर कार्यक्रम का हिस्सा हैं या अनिवार्य हैं।
सरकारी स्कूलों में लड़कियों को खेलों में भाग लेने की मंजूरी देने का फैसला सउदी अरब में काफी अहम है क्योंकि यहां महिलाओं का खेलना अब भी अच्छा नहीं माना जाता है। देश के कुछ कट्टरपंथी महिलाओं के खेलने को  निर्लज्ज बताते हैं।
चार साल पहले देश में निजी स्कूलों में लड़कियों को खेलों में भाग लेने की अनुमति दी गई थी। महिलाएं पहली बार 2012 के लंदन खेलों के दौरान सउदी अरब की ओलंपिक टीम का हिस्सा बनीं थी। सउदी अरब में महिलाओं को लेकर काफी रूढिवादी मानसिकता है। महिलाओं के गाड़ी चलाने पर प्रतिबंध है और उन्हें विदेश यात्रा करने या पासपोर्ट बनवाने के लिए पुरष संरक्षक की अनुमति लेना अनिवार्य होता है।
Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF