यहां क्‍लास में बंदूक लेकर बेठते हैं छात्र

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 11-07-2017 / 12:31 PM
  • Update Date: 11-07-2017 / 12:31 PM

ऑस्टिन। अमेरिका में टेक्‍सास की अदालत ने तीन प्रोभेसर की उस यचिका को खरिज कर दिया है जिसमें उन्‍होंने छात्रों के क्‍लास रूम में बंदूक लेकर आने की रोक की मांग की थी। राज्‍य सरकार ने छात्रों को 2016 में हथियार लेकर क्‍लास में आने की अनुमति दी थी।

प्रोफेसर जेनिफर ग्लास, लीसा मूर और मिया कार्टर ने फेडरल डिस्टि्रक्ट कोर्ट में तर्क दिया था कि क्लास में हथियार लेकर आने से पढ़ाई का वातावरण और वहां पर होने वाली बहस पर असर पड़ता है। याचिका में कहा गया कि टेक्सास की रिपब्लिकन पार्टी की सत्ता क्लास में हथियार लाने की व्यवस्था का समर्थन करती है, इसलिए यह लागू है। लागू कानून के मुताबिक 21 साल से ऊपर के युवा हथियार रख सकते हैं और उसे विश्वविद्यालय की कक्षा में भी ला सकते हैं।

उल्लेखनीय है कि टेक्सास के विश्वविद्यालयों में 2,21,000 से ज्यादा विद्यार्थी पढ़ते हैं और यह याचिका उन्हीं से संबंधित थी। डिस्टि्रक्ट जज ली ईकेल ने आदेश में कहा कि याचिका में हथियार से भय पैदा होने का एक भी सबूत नहीं दिया गया है। इसलिए उसे खारिज किया जाता है। टेक्सास के अटॉर्नी जनरल केन पेक्सटन ने भी याचिका का यह कहते हुए विरोध किया कि यह कानून को पसंद न करने वाले प्रोफेसरों के एक हिस्से की सोच है।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF