मोदी सरकार ने पूरी दुनिया में की भारत की साख मजबूत: भागवत

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 22-10-2015 / 8:27 AM
  • Update Date: 22-10-2015 / 9:03 AM

नागपुर। आज देशभर में दशहरा यानी विजयादशमी का त्योहार बड़े धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस अवसर पर नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) मुख्यालय में मोहन भागवत ने शिरकत की और विजयादशमी के बारे में बताते हुए हिंदुस्तान और हिंदुओं के गौरव को बयां किया।

भागवत ने की मोदी की तारिफ
कार्यक्रम में मोहन भागवत ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि आज देश में विश्वास का माहौल है। दुनिया में भारत का सम्मान। मोदी सरकार ने पूरी दुनिया में भारत की साख मजबूत की है। सरकार के प्रयासों की वजह से ही योग और गीता की दुनिया भर में चर्चा है। उन्होंने कहा कि भारत को दुनिया का सिरमौर बनाना है।

हिंदू समाज को जाति मुक्त समाज बनाया जाए
संघ प्रमुख ने शोषणमुक्त और बराबरी वाले समाज की बात कही। वक्त आ चुका है जब हिंदू समाज को जाति मुक्त समाज बनाया जाए। आधुनिक दुनिया में वर्ण व्यवस्था की कोई जगह नहीं हो सकती। उन्‍होंने कहा कि जहां कहीं भी दलित, शोषित, आदिवासी समाज पर अत्याचार हो रहा हो। वहां पर संघ सबसे पहले खड़ा दिखाई देना चाहिए। संघ को अपने खिलाफ चल रहे दुष्प्रचार का अब ज्यादा आक्रामकता से मुकाबला करना चाहिए।

फड़णवीस और गडकरी भी पहुंचे
आज के समारोह में महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस और केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी भी पहुंचे हैं। दोनों ही भाजपा नेता संघ की पारंपरिक पोशाक में समारोह में पहुंचे है, जो मीडिया की सुर्खियों में हैं। इसके बावजूद कुछ बड़े पत्रकारों का कहना है कि आरएसएस फड़णवीस की पाठशाला है और हर किसी को अपने पाठशाला में जाने का अधिकार है।

फड़णवीस संघ से ही प्रशिक्षित है तो उनका वहां होना कोई आश्‍चर्य की बात नहीं है। आरएसएस प्रमुख आज संगठन के वर्षभर के कार्यों का लेखा जोखा कार्यकर्ताओं के साथ साझा करते हैं और महत्वपूर्ण घटनाओं पर अपनी राय रखी हैं।

दशहरे पर मनाया जाता है RSS का स्थापना दिवस
हिंदू तिथि के अनुसार दशहरे के दिन ही आरएसएस का स्थापना दिवस भी होता है। आरएसएस के एक पदाधिकारी ने कहा कि भागवत जी स्वयंसेवकों को संबोधित करेंगे और वर्ष के लिए संगठन का एजेंडा बताएंगे। विभिन्न हिंदुवादी संगठनों और नेताओं के हाल ही में कई विवादों में शामिल होने की पृष्ठभूमि में आरएसएस प्रमुख का यह संबोधन खास अहमियत रखता है।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF