बलात्कारी बाबा की ‘बेटी’ के खिलाफ लुकआउट नोटिस

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 02-09-2017 / 6:45 AM
  • Update Date: 02-09-2017 / 7:06 AM

पंचकूला। साध्वियों के साथ बलात्कार के दोषी पाए डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की कथित बेटी हनीप्रीत कौर की मुश्किलें बढ़ गई हैं। हनीप्रीत और डेरा के प्रवक्ता आदित्य इंसा सहित तीन लोगों के खिलाफ पुलिस ने लुकआउट नोटिस जारी किया गया है। यानी ये लोग देश छोड़कर नहीं जा सकते हैं।

हनीप्रीत के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज किया गया है। उन पर कोर्ट के फैसले के बाद डेरा चीफ राम रहीम को भगाने की साजिश रचने का आरोप है। हनीप्रीत की तलाश में हरियाणा पुलिस की टीम ने नेपाल सीमा से सटे इलाकों में भी दबिश दी है। डेरा हिंसा मामले में पुलिस इन लोगों से पूछताछ करना चाहती है, लेकिन इनका कोई अता-पता नहीं है। यहां तक कि सिरसा में भी ये लोग नहीं है। देश के सभी एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन सहित प्रमुख स्थानों पर अलर्ट जारी कर दिया गया है। पुलिस को आशंका है कि हनीप्रीत और आदित्य इंसा विदेश भाग सकते हैं। पुलिस ने आदित्य और हनीप्रीत पर देशद्रोह का भी मामला दर्ज कर रखा है। आदित्य पर समर्थकों को भड़काने और दंगे करवाने का आरोप है।

पद्म पुरस्कार चाहता था राम रहीम
20 साल की कैद काट रहा डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम खुद के लिए पद्म पुरस्कार चाहता था। इसके लिए इसी साल 4200 लोगों ने उसके नाम की सिफारिश की थी। राम रहीम ने इस सम्मान को पाने के लिए खुद पांच बार अपने नाम का प्रस्ताव दिया था।

बाबा के लिए दो सिफारिशें हिसार से ‘सेंटगॉर्ज विलियम सोनेट’ और ‘इंडिया सेंटगॉर्ज’ से भी मिली थीं। उसके नाम की सिफारिश करने वालों में से ज्यादातर ने आभा, आदित्य, अकबर अल्फेज, बलजिंदर, मिल्की, गजल, कोमल, जॉनी, जेसी और ईश्वर जैसे एकल नामों का इस्तेमाल किया था।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF