पीएम मोदी ने किया आंध्र की नई राजधानी का शिलान्यास

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 22-10-2015 / 8:31 AM
  • Update Date: 22-10-2015 / 9:03 AM

हैदराबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को आंध्र प्रदेश की नई राजधानी की नींव रखने अमरावती पहुंचे। अमरावती करीब 1800 साल पहले सातवाहन राजाओं की राजधानी हुआ करती थी। इसे अब फिर से राजधानी का दर्जा मिलने जा रहा है।

मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू ने पीएम मोदी का गर्मजोशी से स्वागत किया। कार्यक्रम के दौरान वैदिक मंत्रोच्चारण किया गया। कृष्णा नदी के किनारे स्थित उद्दंडरायुनिपालेम गांव में आयोजित होने वाले समारोह में लाखों की संख्या में लोग शामिल हुए हैं। इस विशाल समारोह में सुरक्षा के लिए आठ हजार पुलिसकर्मी तैनात किए गए है।

एन चंद्रबाबू नायडू की सरकार ने अमरावती को फिर से खड़ा करने के लिए 32,000 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया है। सरकार के पास अब 50,000 एकड़ जमीन है। कृष्णा नदी के किनारे विजयवाड़ा-गुंटुर रिजन में नई राजधानी के लिए खेती की जमीन ली गई है।

गौरतलब है कि आंध्र का विभाजन कर अलग तेलंगाना राज्य बनाने के बाद हैदराबाद को दस साल के लिए दोनों राज्यों की राजधानी बनाया गया है। इस बीच, आंध्र प्रदेश को अपनी नई राजधानी का निर्माण कार्य पूरा करना होगा।

राज्य सरकार ने कई केंद्रीय मंत्रियों, मुख्यमंत्रियों, अन्य राजनीतिक शख्सियतों, जानी मानी हस्तियों, शीर्ष उद्योगपतियों और विदेशी हस्तियों को भी इस आयोजन में आमंत्रित किया है। मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने प्रधानमंत्री, कई केंद्रीय मंत्रियों, राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव को व्यक्तिगत तौर पर आमंत्रित किया है।

सिंगापुर और जापान के साथ कई देशों के प्रतिनिधिमंडलों के यहां पहुंचने की उम्मीद है। नायडू के आह्वान के अनुसार, राज्य के 16 हजार गांवों और देश के प्रमुख तीर्थ केंद्रों से मिट्टी और जल मंगाया गया है, जिसे राजधानी शहर के निर्माण में इस्तेमाल किया जाएगा।

अमरावती दो मुख्य शहरों-विजयवाड़ा और गुंटुर के बीच खाचें में फिट बैठ गया है। ये दोनों शहर राजधानी के विकास में अपनी भूमिका निभाएंगे। यहां चार राष्ट्रीय राजमार्ग, एक राष्ट्रीय जलमार्ग, एक ग्रैंड ट्रंक रेलवे रूट, तेजी से विस्तार ले रहा है एक हवाई अड्डा और एक बंदरगाह निर्माण के लिए प्रस्तावित है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF