नया इतिहास रचने की तैयारी में चीन

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 22-08-2017 / 9:03 PM
  • Update Date: 22-08-2017 / 9:03 PM

बीजिंग। चीन दुनिया की सबसे तेज ट्रेन पटरियों पर दौड़ने की तैयारियों में जुटा हुआ है। अगले महीने से बीजिंग और शंघाई के बीच ये ट्रेन दौड़ती नजर आ सकती है। नई पीढ़ी की ये बुलेट ट्रेन “फुशिंग” 21 सितंबर से दौड़ना शुरू कर सकती है। इस ट्रेन की अधिकतम रफ्तार 400 किलोमीटर होगी, जो बीजिंग से शंघाई के बीच की 1250 किलोमीटर की दूरी केवल साढ़े चार घंटे में पूरी कर लेगी।

फिलहाल बीजिंग से शंघाई के बीच की 1250 किलोमीटर की दूरी 6 घंटे में पूरी होती थी, लेकिन इस ट्रेन की शुरुआत से मुसाफिरों को वक्त बचेगा। चीन रेलवे कॉर्पोरेशन का कहना है कि यह दुनिया की सबसे तेज गति से जाने वाली वाणिज्यिक बुलेट रेल होगी। चीन ने 350 किमी प्रतिघंटे रफ्तार से चलने वाली अपनी पहली रेल की शुरुआत अगस्त 2008 में की थी, जो बीजिंग से तियानजिन के बीच चलती है।

हालांकि जुलाई 2011 में एक दुर्घटना के बाद इसकी गति को घटाकर 250 से 300 किमी प्रति घंटे कर दिया गया था। “फुशिंग” ट्रेनों को पहली बार जून में प्रदर्शित किया गया था और 27 जुलाई को इसका टेस्ट रन किया गया था।अब 21 सितंबर से यह ट्रेन प्रतिदिन राउंड ट्रिप पूरी करेगी। इसकी अधिकतम रफ्तार 400 किमी प्रतिघंटे होगी। चीन की योजना आने वाले सालों में देशभर में ऐसी तीन और तेज गति वाली रेल लाइन बिछाने की है।

चीन के पास दुनिया का सबसे लंबा 22 हजार किलोमीटर का हाई-स्पीड रेल नेटर्वक है,चाइना एकेडमी ऑफ इंजीनियरिंग के मुताबिक,चीन की एक तिहाई हाई-स्पीड रेलवे को 350 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चलने वाली ट्रेनों के अनुसार बनाया गया है।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF