जब टूटा डॉक्टर बनने का सपना, न्यूड होकर नर्स ने किया…

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 05-07-2017 / 12:08 PM
  • Update Date: 05-07-2017 / 12:08 PM
भरतपुर। राजस्थान के भरतपुर शहर में पुलिस व अपने स्टाफ सहित पड़ोसियों के लिए सिरदर्द बनी 35 साल की नर्स सविता शर्मा ने मंगलवार सुबह करीब दो घंटे तक हाई वोल्टेज ड्रामा किया। यह नर्स पिछले कई दिनों से बालकनी में आकर बिना कपड़ों के हंगामा कर रही थी। नर्स के इस हंगामे से आस-पड़ोस के लोग काफी परेशान हो गए थे। इस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए जब उन्होंने पुलिस दल बुलाया तो महिला ने बालकनी में बिना कपड़ों के आकर उन पर आरी से हमला कर दिया। 30 लोगों के दल को भी महिला को काबू करने में पसीने आ गए। आखिर काफी मशक्कत के बाद उसे पकड़ा गया और कपड़े पहना कर जयपुर के मानसिक चिकित्सालय भिजवा दिया गया।
…और पुलिस पर कर दिया आरी से हमला
भरतपुर के आरबीएम अस्पताल क्वाटर्स में रहने वाली 35 साल की नर्स सविता शर्मा, यहां रहने वाले लोगों को काफी समय से परेशान कर रही थी। सविता को जो भी उसे पकड़ने जाता था उस पर वह धारदार हथियार से वार करती थी। मंगलवार को पुलिस की टीम के 30 लोग अस्पताल के क्वाटर्स पहुंचे और उसे जैसे-तैसे नर्स को काबू में किया। हालांकि नर्स के हमले में पुलिसवालों को चोट भी आई।
पिता पर भी किया था हमला
सविता आरबीएम अस्पताल के सरकारी क्वाटर्स में फर्स्ट फ्लोर पर पिछले एक साल से रह रही थी। सविता के पड़ोसी के अनुसार उसकी शादी नहीं हुई है और एक साल पहले सविता ने अपने पिता पर भी धारदार हथियार से हमला किया था। जिसके बाद उसे घर से निकाल दिया था और सविता सरकारी अस्पताल के क्वाटर्स में आकर रहने लगी।
इस दौरान सविता आए दिन अपने घर से सामान फेंकती थी और बिना कपड़ों के बलकनी में आ जाती थी। पिछले चार दिनों से सविता अस्पताल नहीं जा रही थी। इस पर उसके पड़ोसी ने अस्पताल के सीनियर डॉक्टर को बताया। जिसके बाद पुलिस की टीम ने सविता को पकड़कर अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां से उसे बेहतर इलाज के लिए जयपुर भेजा गया है। इसके साथ ही सविता के घरवालेां को इस घटना की जानकारी दे दी गई, लेकिन उसके घर से कोई नहीं आया।
Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF