गुजरात निकाय चुनाव: हार्दिक पटेल के गांव में जीती बीजेपी

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 02-12-2015 / 6:58 PM
  • Update Date: 03-12-2015 / 5:37 PM

2015_12$largeimg02_Dec_2015_104340370अहमदाबाद। गुजरात में स्थानीय निकायों के हुए चुनाव में वोटों की गिनती जारी है। बिहार में भाजपा की करारी हार के बाद सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा को अपने गढ़ गुजरात में हुए स्थानीय चुनावों से काफी उम्मीद है। बीजेपी ने शुरुआती रुझान में बढ़त बना ली है। इन चुनाव में पटेल आंदोलन की अगुवाई करने वाले हार्दिक पटेल के गांव वीरमगाम के जिला पंचायत चुनाव में बीजेपी को जीत मिली है।

अहमदाबाद- बीजेपी 72 और कांग्रेस 23 सीटों पर आगे
भावनगर- बीजेपी 34 और कांग्रेस 18 सीटों पर आगे
राजकोट- बीजेपी 40 और कांग्रेस 30 सीटों पर आगे
जामनगर- बीजेपी 38 और कांग्रेस 20 सीटों पर आगे
सूरत- बीजेपी 37 और कांग्रेस 23 सीटों पर आगे
वडोदरा- बीजेपी 30 तो कांग्रेस 18 सीटों पर आगे

बीजेपी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने गुजरात के अलग-अलग इलाकों में जीत का जश्न मनाना शुरू कर दिया है। बीजेपी की विजयी उम्मीदवार मीनाक्षी बेन पटेल ने कहा कि यह बीजेपी के सभी कार्यकर्ताओं की जीत है। हमारा फोकस विकास पर था और मोदी जी ने यहां जो विकास कार्य किए, उससे हम आगे निकल गए।

छह नगर निगमों के लिए मतदान 26 नवम्बर को हुआ था जबकि 31 जिला पंचायतों, 230 तालुका पंचायतों और 56 नगर पालिकाओं के लिए मतदान 29 नवम्बर को हुआ था1 छह नगर निगमों में मात्र 45 प्रतिशत मतदान हुआ था लेकिन अन्य स्थानों पर यह 60 प्रतिशत से अधिक था।

इस चुनाव को बीजेपी और मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के लिए एक चुनौती के रूप में देखा जा रहा है क्योंकि यह पटेल आरक्षण आंदोलन के बाद हो रहा है। नरेंद्र मोदी की जगह आनंदीबेन के मुख्यमंत्री बनने के बाद यह पहला बड़ा चुनाव है।

पटेल समुदाय को ओबीसी कोटे में शामिल करने की मांग कर रहे पटेल नेताओं ने चुनाव से पहले समुदाय के सदस्यों से बीजेपी के खिलाफ और कांग्रेस को वोट करने की अपील की थी। वर्तमान समय में सभी छह नगर निगमों- अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर और भावनगर पर बीजेपी का नियंत्रण है। ग्रामीण एवं अर्धशहरी क्षेत्रों में अन्य स्थानीय निकायों में अधिकतर पर भी बीजेपी का नियंत्रण है।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF